सोमवार, 22 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. चुनाव 2023
  2. विधानसभा चुनाव 2023
  3. राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023
  4. Ashok Gehlot targeted Narendra Modi
Written By
Last Updated :जयपुर , शनिवार, 7 अक्टूबर 2023 (16:53 IST)

गहलोत ने किया सवाल, मोदी बताएं कि हमारी सरकार के बड़े फैसले केंद्र में कब लागू होंगे?

गहलोत ने किया सवाल, मोदी बताएं कि हमारी सरकार के बड़े फैसले केंद्र में कब लागू होंगे? - Ashok Gehlot targeted Narendra Modi
Ashok Gehlot: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शनिवार को कहा कि उनकी सरकार ने चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा और शहरी रोजगार योजना जैसे कई बड़े फैसले किए हैं और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) को बताना चाहिए कि इन्हें केंद्र सरकार अपने यहां कब लागू करेगी?
 
गहलोत ने दोहराया कि उनकी सरकार बिहार की तर्ज पर राजस्थान में भी जातिगत सर्वेक्षण करवाएगी और यह भी एक बड़ा फैसला है। मोदी ने सोमवार को चित्तौड़गढ़ में एक जनसभा में कहा था कि राज्य में सत्ता में आने पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जनहित की किसी योजना को बंद नहीं करेगी और यह मोदी की गारंटी है। इस बारे में पूछे जाने पर गहलोत ने जयपुर में मीडिया से कहा कि इसका मतलब है कि उन्होंने मान लिया है कि हमारी योजनाएं शानदार हैं। वे चिंता नहीं करें, हमने योजनाएं अच्छे ढंग से लागू की हैं। वे तो यह बताएं कि केंद्र में 25 लाख रुपए के बीमा की घोषणा कब करेंगे? बताएं ओपीएस (पुरानी पेंशन योजना) लागू कब करेंगे? बताएं शहरी रोजगार योजना कब शुरू करेंगे?
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने बड़े-बड़े फैसले किए हैं, इन्हें फैसले केंद्र कब लागू करेगा? प्रधानमंत्री मोदी को यहां आकर बताना चाहिए। पहले लागू करें, फिर यहां आकर प्रचार करें। तब लोग आपकी बात पर विश्वास करेंगे। राजस्थान में इस साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं।
 
गहलोत ने दावा किया कि भाजपा नेताओं को कांग्रेस सरकार के फैसलों की आलोचना करने के लिए शब्द नहीं मिल रहे हैं, इसलिए वे कभी लाल डायरी, कभी पीली डायरी तो कभी काली डायरी की बात करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा के स्थानीय नेता अपने प्रधानमंत्री और केंद्रीय नेताओं को कोई मुद्दा तक नहीं बता पा रहे हैं।
 
गहलोत ने दोहराया कि राज्य सरकार बिहार के मॉडल को अपनाते हुए राज्य में जातिगत सर्वेक्षेण करवाएगी और यह भी एक बड़ा फैसला है। उन्होंने कहा कि जनगणना तो भारत सरकार ही करवा सकती है, यह केवल परिवारों का सर्वे हो रहा है जिसमें उनकी आर्थिक स्थिति भी पता चल जाएगी। मैं समझता हूं कि बहुत बड़ा निर्णय हुआ है। हमारी पार्टी की प्रतिबद्धता है, हम इसे आगे बढ़ाएंगे।
 
आगामी चुनाव में अन्य दलों से गठबंधन पर गहलोत ने कहा कि यह पार्टी का अंदरुनी मामला है। गहलोत ने दावा किया कि हमारी सरकार ने क्रांतिकारी फैसले किए हैं। राजस्थान का हर गांव, हर घर को हमारी किसी न किसी योजना का फायदा मिला है।
 
संजीवनी क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी घोटाला मामले में गहलोत ने कहा कि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पीड़ितों की मदद के लिए आगे आएं तो वे माफी मांग लेंगे। उन्होंने कहा कि संजीवनी घोटाले में 1.50 लाख लोग बर्बाद हो गए इसलिए शेखावत को माफी तो मांगनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं तो 1 बार नहीं, 25 बार माफी मांग सकता हूं, अगर शेखावत आगे आकर इन सबकी मदद करें, पैसे दिलवा दें मैं उनसे माफी मांग लूंगा, अगर मैंने कुछ गलत कहा है तो।
 
गहलोत ने कहा कि उन्होंने इस मामले में वही कहा था, जो उन्हें जांच एजेंसी ने रिकॉर्ड के हिसाब से बताया था। गहलोत जोधपुर से सांसद शेखावत पर इस घोटाले में शामिल होने का आरोप बार-बार लगाते रहे हैं। शेखावत ने इन आरोपों को खारिज करते हुए गहलोत के खिलाफ दिल्ली की एक अदालत में मानहानि का मुकदमा दायर किया है।(भाषा)
 
Edited by: Ravindra Gupta
ये भी पढ़ें
अजय सिंह पर प्रहलाद पटेल का पलटवार, बताया राहुल नाम का असर, कोयला घोटाले में शामिल होने के आरोपों को बताया झूठा