अमित शाह का उद्धव ठाकरे पर निशाना, बोले- राजनीति में धोखेबाजों को सबक सिखाना जरूरी, शिवसेना को घरेलू मैदान में दिया जाए गहरा घाव

पुनः संशोधित सोमवार, 5 सितम्बर 2022 (22:50 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई। का बिगुल फूंकते हुए केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता ने सोमवार को पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना को उसके घरेलू मैदान पर ‘गहरा घाव’ देने को कहा। उन्होंने उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए कहा कि राजनीति में धोखेबाजों को सबक सिखाना जरूरी है।


शाह ने ठाकरे की निंदा करते हुए कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के देवेंद्र फडणवीस के नाम पर 2019 के चुनाव में वोट मांगने के बावजूद शरद पवार के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के समर्थन से मुख्यमंत्री बनने के लिए हर चीज से समझौता किया।

शिवसेना लगभग 30 वर्षों से बृहन्मुंबई महानगरपालिका पर शासन कर रही है। वर्तमान में, बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) एक प्रशासक द्वारा चलाई जा रही है क्योंकि नगर निकाय का पांच साल का कार्यकाल समाप्त हो गया है और चुनाव की प्रतीक्षा है।
शाह ने यहां भाजपा के नेताओं और चुनिंदा पदाधिकारियों की बैठक में कहा कि यदि आप किसी व्यक्ति को किसी भी स्थान पर मारते हैं, तो यह दुख देता है। जब आप किसी व्यक्ति को उसके घरेलू मैदान पर मारते हैं तो दर्द और गहरा होता है। अब यह समय शिवसेना को गहरा घाव देने का है।
गणपति उत्सव के दौरान शाह महाराष्ट्र की राजधानी के 2 दिवसीय दौरे पर हैं। शाह ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले खेमे की मदद से शिवसेना को बीएमसी से बाहर करने पर भी जोर दिया।

उन्होंने कहा कि मैं आप सभी से पूछ रहा हूं। जब तक भाजपा मुंबई पर कंट्रोल नहीं कर लेती, आप महाराष्ट्र नहीं जीत सकते। असली शिवसेना हमारे साथ आई है और अब उद्धव (ठाकरे) को उनकी जगह दिखाने का समय आ गया है।
शाह ने कहा कि वे शिवसेना (शिंदे गुट) और भाजपा गठबंधन के लिए बीएमसी की 227 सीट में से 150 सीट जीतने का लक्ष्य निर्धारित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब यह निश्चित है कि भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में निकाय चुनाव जीतेगी।



और भी पढ़ें :