रविवार, 14 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. Heavy security force deployed at disputed site on Assam-Meghalaya border
Written By
Last Modified: रविवार, 27 नवंबर 2022 (13:48 IST)

Assam-Meghalaya border dispute : विवादित स्थल पर भारी सुरक्षाबल तैनात, पुलिस ने दी लोगों को यात्रा न करने की सलाह

Assam-Meghalaya border dispute : विवादित स्थल पर भारी सुरक्षाबल तैनात, पुलिस ने दी लोगों को यात्रा न करने की सलाह - Heavy security force deployed at disputed site on Assam-Meghalaya border
गुवाहाटी। असम और मेघालय के बीच रविवार को लगातार छठे दिन यात्रा पाबंदी होने के साथ ही दोनों राज्यों की सीमा पर विवादित इलाके में भारी सुरक्षाबल तैनात है और निषेधाज्ञा आदेश अब भी लागू है।इस बीच, असम पुलिस ने एक परामर्श जारी कर लोगों से मंगलवार को हुई घटना के बाद पड़ोसी राज्य की यात्रा करने से बचने की सलाह दी है। मेघालय में अब भी स्थिति पूरी तरह शांतिपूर्ण नहीं है। असम के लोगों या वाहनों पर हमले हो सकते हैं।

अधिकारियों ने यह जानकारी दी। असम-मेघालय सीमा पर विवादित इलाके में हिंसा में छह लोगों की मौत हो गई थी। इस बीच, असम पुलिस ने एक परामर्श जारी कर लोगों से मंगलवार को हुई घटना के बाद पड़ोसी राज्य की यात्रा करने से बचने की सलाह दी है।

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, मेघालय में अब भी स्थिति पूरी तरह शांतिपूर्ण नहीं है। असम के लोगों या वाहनों पर हमले हो सकते हैं, इसलिए हम लोगों से राज्य की यात्रा न करने के लिए कह रहे हैं। अगर किसी को जाना ही है तो हम उनसे मेघालय के पंजीकरण वाले वाहनों से जाने के लिए कहते हैं।

अधिकारियों ने बताया कि असम से मेघालय में प्रवेश करने के दो अहम बिन्दुओं-गुवाहाटी में जोराबाट और कछार जिले में पुलिस के अवरोधक अब भी लगे हुए हैं। बहरहाल, सामान लेकर जा रहे ट्रक जैसे व्यावसायिक वाहनों पर कोई पाबंदी नहीं लगाई गई है। हिंसा वाले स्थान और आसपास के इलाकों में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत पाबंदियां लगाई गई हैं।

गौरतलब है कि असम-मेघालय सीमा के साथ पश्चिमी कार्बी आंगलोंग जिले में एक विवादित स्थान पर मंगलवार तड़के हुई हिंसा में एक वनरक्षक सहित छह लोगों की मौत हो गई थी। झड़प उस समय हुई जब अवैध रूप से काटी गई लकड़ियों से लदे एक ट्रक को असम के वनकर्मियों द्वारा रोका गया।(भाषा)
Edited By : Chetan Gour
ये भी पढ़ें
बहू डिंपल के प्रचार में जुटे चाचा शिवपाल, बोले- तुम रहना मेरी गवाह...