एकनाथ शिंदे और उद्धव ठाकरे में निर्णायक जंग, 8 अगस्त तक दिखाना होगा दम, किसकी होगी शिवसेना?

पुनः संशोधित शनिवार, 23 जुलाई 2022 (12:09 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई। महाराष्‍ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उद्धव ठाकरे के बीच शिवसेना को लेकर जारी जंग निर्णायक मोड़ पर पहुंच गई है। ने दोनों को 8 अगस्त तक शिवसेना को लेकर सबूत पेश करने को कहा है।

चुनाव आयोग ने ठाकरे व शिंदे गुट दोनों से कहा है कि वे दस्तावेजों के साथ यह सबूत दें कि उनके पास शिवसेना के सदस्यों का बहुमत है। आयोग ने उद्धव ठाकरे गुट को महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे के गुट द्वारा उसे लिखे गए पत्र और शिंदे गुट को ठाकरे गुट द्वारा लिखा गया पत्र भी भेजा है।

आयोग ने शिवसेना पर दावेदारी कर रहे दोनों गुटों से उनके समर्थक विधायकों व सांसदों के अलावा संगठनात्मक इकाइयों में समर्थकों के हस्ताक्षरित पत्र भी मांगे हैं।

उल्लेखनीय है कि शिंदे गुट द्वारा समर्थन लेने के बाद महाराष्‍ट्र में उद्धव ठाकरे की सरकार गिर गई थी। इसके बाद एकनाथ शिंदे ने राज्य में भाजपा के सहयोग से सरकार बनाई। शिंदे गुट को विधायकों के साथ ही बड़ी संख्या में शिवसेना सांसदों का भी समर्थन हासिल है।
दोनों ही गुट शिवसेना पर अपना अधिकार जता रहे हैं। अब देखना होगा कि दोनों दिग्गजों में से शिवसेना पर किसका कब्जा होगा।



और भी पढ़ें :