आजम खान की संसद में अभद्रता, सदन में जमकर हुआ बवाल

पुनः संशोधित गुरुवार, 25 जुलाई 2019 (16:12 IST)
नई दिल्ली। अपनी विवादित टिप्पणियों के लिए मशहूर सपा सांसद ने स्पीकर की कुर्सी पर विराजित भाजपा सांसद रमादेवी पर अभद्र टिप्पणी कर दी, जिससे सदन में काफी देर तक हंगामा चलता रहा। हालांकि सपा नेता ने उन्हें नसीहत देने की बजाय उनका बचाव किया।
बयान से नाराज केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि 19 साल के मेरे सदन के अनुभव में आज तक किसी भी सदस्य ने अध्यक्ष पद पर बैठे किसी सदस्य से, खासकर महिला सदस्य के साथ इस तरह का व्यवहार नहीं किया। हालांकि बाद में आजम की टिप्पणी को सदन की कार्रवाई से हटा दिया गया।

रमा देवी के लिए आजम के शब्दों से लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने आजम को नसीहत देते हुए कहा कि उन्हें अपनी भाषा का ध्यान रखना चाहिए और माफी मांगनी चाहिए। बिरला ने कहा कि सदन में भाषाई मर्यादा का ध्यान रखें, कोई भी अपशब्दों का प्रयोग न करे। उन्होंने कहा कि अगर सत्ता पक्ष में से किसी ने गलत शब्द बोला होगा तो उसे भी माफी मांगनी होगी।
azam khan tweet" width="600" />
आजम की सफाई : आजम खान ने अपनी टिप्पणी पर सफाई देते हुए कहा कि रमा देवी मेरी प्यारी बहन हैं और अगर मैंने कुछ गलत कहा हो तो मैं अभी इस्तीफा देकर सदन से चला जाऊंगा। जब आजम सफाई दे रहे थे तब सदन में उनका जमकर विरोध हुआ। उन्हें बोलने नहीं दिया गया।
आजम ने कहा कि ऐसे अपमानित होकर बोलने से क्या फायदा। इस टिप्पणी के साथ ही आजम सदन से बाहर निकल गए। हालांकि सपा मुखिया अखिलेश यादव ने आजम खान का बचाव किया।

 

और भी पढ़ें :