वानखेड़े स्टेडियम में फिर फूटा करोना बम, ग्राउंड स्टाफ समेत सामने आए 3 मामले

Last Updated: मंगलवार, 6 अप्रैल 2021 (15:25 IST)
मुंबई: वानखेड़े स्टेडियम को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सत्र के 10 मैचों की मेजबानी के लिए हरी झंडी मिलने के बाद परिसर में कोरोना वायरस संक्रमण के तीन और मामले सामने आये है जिसमें दो मैदानकर्मी और एक प्लंबर (नलसाज) है।
आईपीएल सत्र का आगाज नौ अप्रैल को चेन्नई में होगा जबकि में पहला मैच 10 अप्रैल को खेला जाएगा।
मुंबई क्रिकेट संघ के एक सूत्र ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘ स्टेडियम में जांच में कोविड-19 पॉजिटिव तीन मामले मिले है, जिसमें दो मैदानकर्मी है।’’

इससे पहले बीते शनिवार को 10 मैदानकर्मियों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की खबर आयी थी लेकिन उसमें से ज्यादातर इस बीमारी से उबर गये है। इन सभी लोगों को घर भेज दिया गया था और सभी के निगेटिव आने की खबर भी आ गई थी। सरकार ने शहर में सप्ताहांत के प्रावधानों और रात के कर्फ्यू के बावजूद इसके आयोजन को मंजूरी दे दी थी।
सरकार ने रात्रि कर्फ्यू के दौरान भी टीमों को अपने संबंधित होटलों से रात आठ बजे के बाद यात्रा करने और स्टेडियम में अभ्यास करने की अनुमति दी है। महाराष्ट्र में मंगलवार को कोविड-19 के 47,000 मामले सामने आये है, जिसमें मुंबई में इस महामारी की चपेट में आने वाले की संख्या 9000 से अधिक है।
मुंबई में आईपीएल के 10 मैचों का आयोजन होना है। ये सभी मैच वानखेड़े स्टेडियम में होंगे। इनमें से नौ मैच रात सात बजकर 30 मिनट से शुरू होंगे। वानखेड़े में पहला मैच 10 अप्रैल को चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला जाएगा।

कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने मुंबई में ही आईपीएल मैचों की मेजबानी जारी रखने का वायदा किया है। यही नहीं नाइट कर्फ्यू के बीच खिलाड़ियों को भी रात 8.30 के बाद अभ्यास करने की अनुमति भी दी गई है।

ऐसे में यह निर्णय आग से खेलने जैसा है वानखेड़े में नित नए दिन ग्राउंड स्टाफ कोरोना की चपेट में आ रहा है और खिलाड़ी वहां अभ्यास करेंगे। इससे फ्रैंचाइजियों के बायो सेक्योर बबल पर भी खतरा मंडरा रहा है। एक खिलाड़ी भी अगर चपेट में आया तो यह पूरे बबल को ब्रस्ट कर देगा।
हालांकि बीसीसीआई ने हैदराबाद को बैक-अप आयोजन स्थल विकल्प के रूप में अपनी आकस्मिक योजना में रखा है, जो के आयोजन के लिए नामित छह मेजबान शहरों में शामिल नहीं है।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और हैदराबाद के बल्लेबाज मोहम्मद अजहरूद्दी ने शनिवार को अपने बयान में यह कहा था कि आईपीएल के मैचों की मेजबानी उनके स्थानीय शहर को मिलनी चाहिए क्योंकि मुंबई में बेताहाशा कोरोना के केस बढ़ रहे हैं।



और भी पढ़ें :