विराट कोहली ने कप्तान की भूमिका निभाते हुए इन बड़े-बड़े खिलाड़ियों को पीछे छोड़ बनाए ये रिकॉर्ड

Last Updated: सोमवार, 26 अगस्त 2019 (15:33 IST)
दौरा खेल रही भारतीय टीम इन दिनों अपने नए कप्तान के साथ मिलकर हर सीरीज ने अपना नाम कमा रही है। विश्व कप के बाद अब टीम इंडिया तीनों प्रारूपों में अपना नाम रोशन कर रही है। पहले में वेस्टइंडीज को 318 रनों के विशाल अंतर से हराकर 2 टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। भारतीय टीम ने इस जीत के साथ ही कई बड़े अपने नाम कर डाले हैं।

1. विराट कोहली विदेशी सरजमीं पर सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने वाले पहले बन गए हैं। इनसे पहले सौरव गांगुली, एमएस धोनी का नाम आता है। कोहली के नाम अब तक विदेशी धरती पर कुल 25 टेस्ट मैच हैं, जिसमें उन्होंने 12 मैच में जीत दर्ज की है। वहीं, गांगुली ने विदेशी धरती पर कुल 28 टेस्ट मैचों में 11 में जीत दर्ज की थी।

2. वेस्टइवडीज के खिलाफ पहला टेस्ट मैच जीतकर विराट कोहली ने लंबे प्रारूप में भारत के लिए सबसे ज्यादा जीत हासिल करने वाले पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। टीम इंडिया के कप्तान के तौर पर कोहली ने 47 मैचों में 27 में जीत दर्ज की है, जबकि धोनी ने 60 मैचों में 27 में जीत हासिल की है।

3. टीम इंडिया की अपने घर के बाहर रनों के आधार पर यह सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले साल 2017 में भारत ने गाले में श्रीलंका के खिलाफ 3-4 रन से जीत दर्ज की थी।
4. पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया को जीत दिलाकर विराट कोहली अंतरराष्ट्रीय मैच में जीत का शतक लगाने वाले कप्तान भी बन गए।

5. टीम इंडिया के अजिंक्य रहाणे 5वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे अधिक शतक ठोकने लगाने वाले 4थे बल्लेबाज बन गए। उन्होंने अभी तक कुल 9 शतक लगाए हैं। इस मामले में पहले नंबर पर 20 शतक के साथ मोहम्मद अजहररुद्दीन हैं। दूसरे व तीसरे नंबर पर संयुक्त रूप से क्रमशः वीवीएस लक्ष्मण (11) और सौरव गांगुली (10), पॉली उमरीगर (10) हैं।

6. कप्तान विराट कोहली और अजिक्य रहाणे ने टेस्ट क्रिकेट में भारतीय टीम से 4थे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी कर पहले नंबर का स्थान हासिल किया है। विराट और रहाणें के बीच 8 बार शतकीय साझेदारी हुई है। दूसरे नंबर पर सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली (7 शतक) का नाम लिया जाता है।

 

और भी पढ़ें :