गांगुली ने बुमराह के फिटनेस परीक्षण पर कहा, हर भारतीय क्रिकेटर को NCA से गुजरना होगा

Last Updated: शुक्रवार, 20 दिसंबर 2019 (15:51 IST)
कोलकाता। सौरव गांगुली ने शुक्रवार को कहा कि की का राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में किया जाएगा। पहले इस तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं कि न तो भारत का यह मुख्य तेज गेंदबाज और न ही राहुल द्रविड़ की अगुआई वाली संस्था बेंगलुरु में परीक्षण कराने के इच्छुक हैं।
बुमराह पीठ में 'स्ट्रेस फ्रेक्चर' के बाद फिटनेस हासिल कर रहे हैं। उन्होंने हाल में विशाखापट्टनम में वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे वनडे से पहले भारत के नेट अभ्यास में गेंदबाजी की। गांगुली ने यहां पत्रकारों से कहा कि मुझे इसकी जानकारी नहीं है। लेकिन भारतीय खिलाड़ियों को एनसीए जाना होगा और हम यह सुनिश्चित करेंगे कि यह सहज हो और लाजिस्टिक में जाना आसान हो।

वे उस रिपोर्ट का जवाब दे रहे थे जिसमें कहा जा रहा था कि बुमराह एनसीए में फिटनेस परीक्षण कराने के इच्छुक नहीं थे और न ही द्रविड़ ऐसा चाहते थे। ऐसा कहा जा रहा है कि पूर्व भारतीय कप्तान इस बात से नाराज हैं कि बुमराह ने एनसीए में ट्रेनिंग के बजाय निजी ट्रेनर के अंतर्गत रिहैबिलिटेशन कराने का फैसला किया।
26 साल के बुमराह चोट से उबरने के बाद आईपीएल फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स के ट्रेनर रजनीकांत शिवागनानम के साथ मुंबई में ट्रेनिंग कर रहे हैं। गांगुली ने दावा किया कि एनसीए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों के लिए पहला और अंतिम केंद्र होगा। यह भारतीय क्रिकेटरों के लिए है। हर किसी को एनसीए से जाना होगा।

उन्होंने कहा कि वे पूरे साल सभी जगहों पर क्रिकेट खेलते हैं। हम भी कोशिश करेंगे और देखेंगे कि एनसीए के फिजियो मुंबई में जसप्रीत की मदद के लिए आ सकते हैं या नहीं? हम एनसीए के अंतर्गत निगरानी रखनी होगी। हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि एनसीए में सर्वश्रेष्ठ लोग मौजूद हों।
गांगुली ने हाल में एनसीए का दौरा किया था और द्रविड़ से चर्चा की थी जिन्हें इस साल जुलाई में वहां क्रिकेट प्रमुख नियुक्त किया गया था।




और भी पढ़ें :