BCCI में मंत्रियों के रिश्तेदारों की ताजपोशी, अमित शाह के बेटे जय बने सचिव, अनुराग के भाई अरुण नए कोषाध्यक्ष

पुनः संशोधित बुधवार, 23 अक्टूबर 2019 (14:31 IST)
मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को 33 महीने के लंबे अंतराल बाद जाकर बुधवार को अपने नए पदाधिकारी मिल गए जिसमें कुछ महत्वपूर्ण पदों पर केंद्रीय मंत्रियों के रिश्तेदारों की ताजपोशी हुई है। सर्वोच्च न्यायालय द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (COA) पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक विनोद राय की अध्यक्षता में पिछले 33 माह से का संचालन देख रही थी।
ALSO READ:
सौरव गांगुली क्या बीसीसीआई के 'दाग़' धो पाएंगे?
बीसीसीआई के बुधवार को हुए चुनावों में आधिकारिक तौर पर पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के बेटे को सचिव नियुक्त किया गया है। को नया कोषाध्यक्ष बनाया गया है, जो बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष और मौजूदा वित्त राज्यमंत्री के छोटे भाई हैं। दिलचस्प है कि इन पदाधिकारियों को निर्विरोध चुना गया है।
सबसे युवा पदाधिकारी हैं जय शाह : सत्तारूढ़ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय गुजरात क्रिकेट संघ (जीसीए) के संयुक्त सचिव भी रह चुके हैं। पेशे से इंजीनियर जय 31 साल के हैं और बोर्ड की प्रशासनिक टीम का हिस्सा बनने वाले सबसे युवा पदाधिकारी भी हैं। जय को मई 2009 में बोर्ड का कार्यकारी सदस्य चुना गया था जिसके बाद सितंबर 2013 में वे जीसीए के संयुक्त सचिव चुने गए थे।
3 साल का प्रशासनिक अनुभव : अनुराग ठाकुर के छोटे भाई अरुण हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ के सदस्य रहे हैं जिन्हें गत माह राज्य क्रिकेट संघ का अध्यक्ष चुना गया था। 44 साल के अरुण के पास क्रिकेट प्रशासन में 3 वर्ष का अनुभव है। वे एचपीसीए में 2012 से 2015 के बीच उपाध्यक्ष रहे हैं।



और भी पढ़ें :