रविवार, 14 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Mohammed Shami's absence won't increase Jasprit Bumrah's workload says Irfan Pathan
Written By WD Sports Desk
Last Modified: गुरुवार, 1 फ़रवरी 2024 (11:18 IST)

शमी की गैरमौजूदगी पर पूर्व क्रिकेटर ने बुमराह को लेकर दिया बड़ा बयान

ODI World Cup में शानदार प्रदर्शन के बाद से बाएं टखने की चोट के कारण क्रिकेट से दूर शमी की गैरमौजूदगी ने निश्चित तौर पर बुमराह पर अतिरिक्त दबाव डाला है

Jasprit Bumrah
Irfan Pathan on Jasprit Bumrah's Workload IND vs ENG Test Series :  मोहम्मद शमी की गैरमौजूदगी में भले ही जसप्रीत बुमराह पर बोझ बढ़ गया हो लेकिन पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान का मानना है कि भारत के तेज गेंदबाजी आक्रमण का यह अगुआ टेस्ट क्रिकेट की मुश्किलों का सामना करने के लिए फिटनेस के मामले में अब कहीं बेहतर स्थिति में है।
 
 
 
बुमराह 2022 में कमर के स्ट्रैस फ्रेक्चर से परेशान थे और उन्हें न्यूजीलैंड में सर्जरी करानी पड़ी जिसके कारण वह प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से 11 महीने दूर रहे। उन्होंने पिछले साल अगस्त में आयरलैंड के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के साथ वापसी की और तब से चोट मुक्त हैं।
 
 
 
पिछले साल एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय विश्व कप (ODI World Cup) में शानदार प्रदर्शन के बाद से बाएं टखने की चोट के कारण क्रिकेट से दूर शमी की गैरमौजूदगी ने निश्चित तौर पर बुमराह पर अतिरिक्त दबाव डाला है जो इंग्लैंड के खिलाफ चल रही पांच मैच की टेस्ट श्रृंखला में भारतीय आक्रमण की अगुआई कर रहे हैं।
 
 
 
इरफान ने ‘पीटीआई टीवी’ से कहा, ‘‘बेशक शमी की गैरमौजूदगी का असर पड़ेगा लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि बुमराह को चोट लगने की संभावना बढ़ जाएगी। उसका एक्शन अब बिलकुल ठीक है।’’
 
 
 
वापसी के बाद से बुमराह ने अपने रन-अप में एक कदम का इजाफा किया है। वह गेंद फेंकने के बाद अब अधिक दूर तक भागते हैं जिससे कमर पर कम असर पड़ता है।
 
 
 
इरफान ने कहा कि शमी की गैरमौजूदगी में निश्चित तौर पर बुमराह पर अतिरिक्त दबाव है।
 
 
उन्होंने कहा, ‘‘जब दोनों छोर से दबाव होता है, फिर चाहे शमी एक छोर से विकेट ले रहे हों और बुमराह दूसरे छोर पर चुपचाप अपना काम कर रहे हों।
 
 
 
क्रिकेटर से कमेंटेटर बने इरफान ने कहा, ‘‘या बुमराह विकेट ले रहे हों और दूसरे छोर पर शमी चुपचाप अपना काम कर रहे हों। इनकी साझेदारी ना सिर्फ एक दूसरे के ऊपर से दबाव कम करती है बल्कि टीम के लिए भी फायदेमंद होती है।’’
 
 
 
इरफान खेल के पारंपरिक प्रारूप के प्रति बुमराह के समर्पण और रवैये से प्रभावित हैं।
 
उन्होंने कहा, ‘‘मैं जसप्रीत बुमराह के रवैये का बड़ा प्रशंसक हूं, विशेषकर टेस्ट क्रिकेट में। जिस तरह से चोटों के बावजूद वह टेस्ट क्रिकेट को प्राथमिकता देता है।’’
 
हैदराबाद में इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में 28 रन की हार के बाद भारत शुक्रवार से विशाखापत्तनम में शुरू होने वाले दूसरे मैच में जीत दर्ज करके श्रृंखला बराबर करने की कोशिश करेगा। (भाषा)
 
ये भी पढ़ें
फिल्में कभी भी मेरा जुनून नहीं थी,12वीं फेल डायरेक्टर के बेटे ने चुना अलग रास्ता