महेंद्र सिंह धोनी को देख बेकाबू हुई भीड़, पुलिस को करना पड़ा लाठीचार्ज (वीडियो)

Last Updated: बुधवार, 3 मार्च 2021 (22:28 IST)
जालौर: में जिले के सांचौर उपखंड में आज एक स्कूल का लोकार्पण करने आये भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के कार्यक्रम में प्रशंसकाें के बेकाबू होने पर पुलिस को करना पड़ा।

सूत्रों ने बताया कि धोनी दोपहर में जालौर आये थे। राजस्थान गुजरात सीमा पर स्थित नैनवा में उनका जोरदार स्वागत किया गया। इसके बाद वह सड़क मार्ग से जाखल पहुंचे। उनके आने की सूचना पर वहां बड़ी संख्या में उनके प्रशंसक एकत्रित हो गये।
सूत्रों ने बताया कि धोनी ने वहां भामाशाह की ओर से बनाये गये विद्यालय का लोकार्पण किया। इसी दौरान उनसे मिलने के लिये प्रशंसक धक्कामुक्की करने लगे। देखते ही देखते भीड़ अनियंत्रित हो गयी। पुलिस ने उन्हें धोनी से दूर करने का प्रयास किया, लेकिन प्रशंसक माने नहीं। इस पर पुलिस ने उन पर लाठियां बरसा दी जिससे भगदड़ मच गयी। बाद में पुलिस ने उन्हें खदेड़ दिया।

इससे पहले जाखल निवासी भामाशाह ने गांव में संघवी तीजा बेन मिश्रीमल कटारिया राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के नये भवन का निर्माण करवाया। इसका उद्घाटन धोनी, राजस्थान के वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्नोई और सांसद देवजी पटेल ने किया।(वार्ता)
संन्यास के बाद भी धोनी के दिवाने है फैंस

पिछले साल क्रिकेट को अलविदा कहने वाले महेंद्र सिहं धोने ने भारत के लिए 350 वन-डे, 90 टेस्ट और 98 टी-20 मैच खेले।

उन्होंने वन-डे क्रिकेट में पांचवें से सातवें नंबर के बीच में बल्लेबाजी के बावजूद 50 से अधिक की औसत से 10773 रन बनाए। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 38.09 की औसत से 4876 रन बनाए और भारत को 27 से ज्यादा जीत दिलाई।

आंकड़ों से हालांकि धोनी के करियर ग्राफ को नहीं आंका जा सकता। धोनी की कप्तानी, मैच के हालात को भांपने की क्षमता और विकेट के पीछे जबर्दस्त चुस्ती ने पूरी दुनिया के क्रिकेटप्रेमियों को दीवाना बना दिया था। यही कारण है कि उनके संन्यास को 6 महीने हो गए हैं फिर भी उनकी दिवानगी कम नहीं हो रही।

आईपीएल में तीन बार चेन्नई को जिताकर वे ‘थाला’ कहलाए। चेन्नई टीम के सीईओ काशी विश्वनाथ ने हाल ही में कहा था कि वे कम से कम 2022 तक टीम के लिए खेलते रहेंगे।



और भी पढ़ें :