विनिर्माण क्षेत्र में मंदी से कुछ राहत, क्षेत्रीय Lockdown से बाधित हुई मांग

Last Updated: बुधवार, 1 जुलाई 2020 (12:44 IST)
नई दिल्ली। एक मासिक सर्वेक्षण के मुताबिक की गतिविधियों में जून में कुछ स्थायित्व आया, लेकिन क्षेत्रीय स्तर पर बढ़ाने के कारण कारोबार की स्थिति बिगड़ी रही। आईएचएस मार्केट इंडिया विनिर्माण परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (पीएमआई) जून में 47.2 पर रहा। यह सूचकांक मई में 30.8 था।
ALSO READ:
बोले पीएम मोदी, लंबे Lockdown के बाद भारत सामान्य कारोबारी गतिविधियों की ओर लौट रहा
सर्वेक्षण के मुताबिक सुधार के बावजूद भारत में विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधियां जून में लगातार तीसरे महीने कम हुईं। के 50 से ऊपर रहने का अर्थ है कि गतिविधियों में विस्तार हो रहा है जबकि 50 से कम अंक संकुचन को दर्शाता है।
आईएचएस मार्केट के अर्थशास्त्री इलियट केर ने कहा कि भारत का विनिर्माण क्षेत्र जून में स्थिरीकरण की ओर बढ़ा, हालांकि क्षेत्रीय स्तर पर लॉकडाउन को बढ़ाने से मांग में कमी देखी गई। सर्वेक्षण के मुताबिक मांग में लगातार गिरावट के कारण जून में रोजगार में और कमी हुई। (भाषा)



और भी पढ़ें :