श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के शुभ मुहूर्त यहां मिलेंगे, जानिए कब करें श्रीकृष्ण का पूजन


श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार इस बार को मनाया जाएगा। हिंदू धर्म में का बहुत खास महत्व होता है। इस त्योहार को भगवान कृष्ण के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है। इस बार अष्टमी 2 सितंबर की रात 08:47 पर लगेगी और 3 तारीख की शाम को 7 बजकर 20 मिनट पर खत्म हो जाएगी। वैष्णव श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 3 तारीख को मनाई जाएगी।
शुभ मुहूर्त

-जन्माष्टमी पूजा का समय का समय 2 सितंबर की रात 11 बजकर 57 मिनट से 12 बजकर 43 मिनट तक रहेगा।

- शुभ मुहूर्त की कुल अवधि 45 मिनट तक रहेगी।

-3 सितंबर को, पारण का समय : शाम 8 बजकर 5 मिनट के बाद

इसे फिर से समझें, जन्माष्टमी दिनांक 2 सितंबर, दिन रविवार को है। इस दिन निशीथ पूजा का शुभ मुहूर्त रात में 23:57 से 00:43
तक यानी करीब 45 मिनट का है। जन्माष्टमी का पारण दिनांक 3 सितंबर को होगा। पारण के दिन अष्टमी तिथि का समाप्ति समय 19:19 है। पारण के दिन रोहिणी का समाप्ति समय 20:05 है।

और अधिक स्पष्ट शब्दों में कहा जाए तो 2 सितंबर, रविवार को रात श्रीकृष्ण का जन्म माना जाएगा और 3 सितंबर को उपवास शुभ होगा।
यानी पर्व 3 को मनाएं, लेकिन 2 सितंबर की रात्रि में कान्हा का जन्म कर लीजिए।

 
-->

और भी पढ़ें :