वायरल हो रहा है Whatsapp को गुलाबी रंग में बदलने वाला मैसेज, जानिए क्या है इसके पीछे की खतरनाक सचाई

Last Updated: मंगलवार, 20 अप्रैल 2021 (16:27 IST)
नई दिल्ली। साइबर विशेषज्ञों ने लिंक के जरिए फोन पर भेजे जा रहे वायरस को लेकर आगाह किया है। इस लिंक में दावा किया जाता है कि का हो जाएगा और उसमें नई विशेषताएं जुड़ जाएंगी।
साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों के अनुसार लिंक में दावा किया जाता है कि यह Whatsapp की तरह से आधिकारिक अद्यतन के लिए है, लेकिन लिंक पर क्लिक करते ही संबंधित यूजर्स का फोन हैक हो जाएगा और हो सकता है कि वे Whatsapp का उपयोग नहीं कर पाए।
साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ राजशेखर राजहरिया ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि Whatsapp पिंक को लेकर सावधान! एपीके डाउनलोड लिंक के साथ Whatsapp ग्रुप वायरस फैलाने का प्रयास किया जा रहा है। Whatsapp पिंक के नाम से किसी भी लिंक पर क्लिक नहीं करे। लिंक को क्लिक करने पर फोन का उपयोग करना मुश्किल हो जाएगा।
साइबर सुरक्षा से जुड़ी कंपनी वोयागेर इनफोसेक के निदेशक जितेन जैन ने कहा कि यूजर्स को यह सलाह दी जाती है कि वे गूगल या एप्पल के आधिकारिक ऐप स्टोर के अलावा एपीके या अन्य मोबाइल ऐप को इंस्टॉल नहीं करें।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार के ऐप से आपके फोन में सेंध लग सकते हैं और फोटो, एसएमएस, संपर्क आदि जैसी सूचनाएं चुरायी जा सकती हैं।

इस बारे में संपर्क किए जाने पर Whatsapp ने कहा कि अगर किसी को संदिग्ध संदेश या ई-मेल समेत कोई संदेश आते हैं, उसका जवाब देने से पहले पूरी जांच कर ले और सतर्क रुख अपनाये। पर हम लोगों को सुझाव देते हैं कि हमने जो सुविधाएं दी हैं, उसका उपयाग करें और हमें रिपोर्ट भेजे, संपर्क के बारे में जानकारी दे या उसे ब्लॉक करे। (भाषा)



और भी पढ़ें :