mAadhaar : आधार कार्ड गुम होने पर इस आसान तरीके से हो जाएगा आपका काम

भारतीय होने की पहचान है। कई स्थानों पर कई कामों में आपको आधार की आवश्यकता पड़ती है। UIADI ने एक मोबाइल इंटरफेस 'mAadhaar' लांच किया। अगर आपका आधार कार्ड की हार्ड कॉपी गुम भी हो जाए तो आपका काम हो जाएगा। इससे यह सुविधा मिलेगी कि आपके मोबाइल में आपका आधार होगा। 'mAadhaar' ऐप इस्तेमाल करने के लिए, एक रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है।

अगर आपका मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड नहीं है, तो आपको अपने पास के आधार एनरोलमेंट सेंटर या मोबाइल अपडेट एंड पॉइंट पर जाना होगा। क्यूआर कोड सुविधा और पासवर्ड से सुरक्षित किया गया ईकेवाईसी डेटा भी इस ऐप में दिए गए अतिरिक्त फीचर है। इसे हवाई अड्डों या ट्रेन में सफर के दौरान पहचान-पत्र के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है और यह मान्य होता है।

यह ऐप एक बायोमीट्रिक लॉकिंग/अनलॉकिंग फीचर के साथ आता है जिससे निज़ी डेटा को सुरक्षित रखा जा सके। एक बार यूज़र द्वारा लॉक इनेबल करने पर, ऐप तब तक लॉक ही रहता है जब तक कि यूज़र इसे अनलॉक ना करे या फिर लॉकिंग सिस्टम को डिसेबल ना कर दे। इस ऐप में एक 'टीओटीपी जेनरेशन' (समय आधारित वन-टाइम पासवर्ड) प्रक्रिया है जिसे एसएमएस की आधारित ओटीपी की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है।
आइए जानते हैं क्या है mAadhaar की प्रक्रिया
  • अपने एंड्राइड मोबाइल पर गूगल प्ले स्टोर ओपन करें।
  • mAadhaar की इसके बाद इसे अनुमति देकर डाउनलोड करें
  • अपने मोबाइल पर mAadhaar ऐप खोले और पासवर्ड बनाएं
  • अगली स्क्रीन पर अपना आधार नंबर डाले और अपनी आधार प्रोफाइल सेट करने के लिए क्यूआर कोड का चयन करें।
  • इसके बाद आपने जो मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड किया, उस पर ओटीपी मिलेगा। ओटीपी डालकर वेरिफाई बटन पर क्लिक करें।
  • ओटीपी वेरिफाई करने के बाद आपका आधार प्रोफाइल तैयार की जाएगी और आप बायोमैट्रिक डेटा लॉक/अनलॉक कर पाएंगे।




और भी पढ़ें :