कोलकाता नाइट राइडर्स और मुंबई इंडियन्स के इन खिलाड़ियों को लिया जा सकता है फैंटेसी टीम में

Last Updated: मंगलवार, 13 अप्रैल 2021 (15:41 IST)
कोलकाता ने अपने पहले मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद को 10 रन से पराजित किया है और उसकी नजरें मुंबई के खिलाफ मुकाबले में लगातार दूसरी जीत दर्ज करने पर लगी होंगी। कोलकाता को अपने इंग्लिश कप्तान इयोन मॉर्गन से काफी उम्मीदें होंगी कि वह न केवल अपनी टीम को दुरुस्त रखेंगे बल्कि उसकी जीत की आदत को बरकरार रखेंगे।
मुंबई इंडियन्स साल 2013 से अपने आईपीएल अभियान की शुरुआत हार से करती हुई आयी है और अपने पहले मुकाबले में आखिरी गेंद पर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु से दो विकेट से हार झेलने वाली शगुन मानकर आगे की ओर रुख करना चाहेगी।

दोनों ही टीमों में बड़े पॉवर हिटर्स हैं लेकिन आज के मैच में मुंबई इंडियन्स के खिलाड़ियों को ज्यादा मौका देने में भलाई है क्योंकि गत विजेता आज घायल शेर की तरह वार कर सकती है। मुंबई के 7 खिलाड़ी और कोलकाता के 4 खिलाड़ियों को लिया जा सकता है, अगर आपको संतुलित टीम लेनी है तो मुंबई के 6 और कोलकाता के 5 खिलाड़ी ले सकते हैं।
अब जान लेते हैं कि किसी वर्ग में किन खिलाड़ियों को लेने से आपको फायदा होगा।

विकेटकीपर - इस वर्ग में तीनों विकेट कीपर लेन लायक हैं। क्विंटन डि कॉक पाकिस्तान से हुए वनडे सीरीज में 2 अर्धशतक जड़ चुके हैं। आईपीएल 2020 में भी वह 4 अर्धशतक लगाकर 503 रन बना चुके हैं।

उनसे ऊपर इशान किशन हैं जिन्होंने भारत के लिए हाल ही में टी-20 डेब्यू किया है और आईपीएल 2020 की वह खोज रहे हैं। किशन ने इस सीजन में 4 अर्धशतक पारियों की मदद से 516 रन जड़े थे।

इस वर्ग में कोलकाता के विकेटकीपर दिनेश कार्तिक को ड्रॉप किया जा सकता है। अगर आपके अंक बचे तो आखिर में इन्हें लिया जा सकता है।

बल्लेबाज-
इस वर्ग में दो मुंबई के बल्लेबाज और दो कोलकाता के बल्लेबाज लिए जा सकते हैं। मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा को टीम में रख सकते हैं। पहले टी-20 में वह दुर्भाग्यवश रन आउट हो चुके थे तो आज वह पूरी कसर निकाल सकते हैं।
सूर्यकुमार एक ऐसे बल्लेबाज है जिनको ड्रॉप करने के बारे में सोचना भी गलत है। यादव ने आईपीएल 2020 में 4 अर्धशतक की बदौलत से 480 रन बनाए थे। हाल ही में टी-20 सीरीज में उन्होंने टीम इंडिया के लिए डेब्यू भी किया।

वहीं कोलकाता के दो मुख्य बल्लेबाजों को टीम में लिया जा सकता है। पहले हैं नितीश राणा और दूसरे हैं राहुल त्रिपाठी। राणा ने हैदराबाद के खिलाफ 80 रनों की पारी तो जरुर खेली थी लेकिन पिछली 6 पारियों में 80 रन बनाने के बाद वह 0 पर आउट हुए हैं। तो जोखिम लेने की जिम्मेदारी फैंटेसी टीम के मालिक पर रहेगी।
राहुल त्रिपाठी ने भी पिछले मैच में 50 र बनाए थे। बाकि के कोलकाता के बल्लेबाजों का फॉर्म खराब है।

ऑलराउंडर - इस वर्ग में दोनों ही टीमों के बहुत मजबूत ऑलराउंडर उपलब्ध हैं। कोलकाता से आंद्रे रसेल और शाकिब अल हसन, मुंबई से कीरन पोलार्ड और हार्दिक पांड्या।

शाकिब अल हसन को लिया जा सकता है और रसेल को ड्रॉप किया जा सकता है क्योंकि ना ही वह पिछले मैच में कुछ खास कर पाए थे और आईपीएल 2020 भी उनका फीका ही गया था।

मुंबई टीम से हार्दिक पांड्या को लिया जा सकता है क्योंकि वह बल्लेबाजी में तेज रन बनाते हैं, वैसे तो पोलार्ड भी तेज रन बनाते हैं पर फिलहाल लय उनके साथ नहीं है। आखिर में अंक बच जाए तो एक अतिरिक्त ऑलराउंडर भी लिया जा सकता है।

गेंदबाज- गेंदबाज में तो विकल्पों की अधिकता है, जसप्रीत बुमराह, ट्रैंट बोल्ट, पैट कमिंस, लॉकी फर्ग्यूसन सभी उच्च श्रेणी के तेज गेंदबाज है। वहीं स्पिनर को देखा जाए तो वरुण चक्रवर्ती भी उपलब्ध है। ऐसे में दो मुंबई के और एक कोलकाता का गेंदबाज लिया जा सकता है।
(वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :