इंदौरी lockdown शायरी:ना कयीं आ रिया हूँ, ना जा रिया हूँ


ना कयीं आ रिया हूँ, ना जा रिया हूँ,
हव...
ना कयीं आ रिया हूँ, ना जा रिया हूँ,
इस एब्ले करोना की मगजमारी में,
पोये बी बिना सेंव केई खा रिया हूँ।



और भी पढ़ें :