शनिवार, 9 दिसंबर 2023
  • Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. सेहत
  3. यूँ रहें स्वस्थ
  4. Garlic Juice In Hindi
Written By WD

लहसुन का जूस पीने के 10 फायदे और 6 सावधानियां

लहसुन का जूस पीने के 10 फायदे और 6 सावधानियां - Garlic Juice In Hindi
लहसुुन में कुछ बहुत ही खास गुण होते हैं और इसे न केवल भारत में बल्कि दुनिया के कई देशों में एक महत्वपूर्ण मसाले के तौर भी पर इस्तेमाल किया जाता है। लहसुुन में खाने को एक अलग ही स्वाद देने की क्षमता होती है जो बहुत से लोगों को पसंद होती है। 

 
लहसुुन को अपनी डाइट का हिस्सा बनाने का एक और तरीका है इसे ज्यूस के तौर पर इस्तेमाल करना। आप जल्दी ही इससे आने वाले बदलाव को महसूस करने लगेंगे।
 
1. लहसुुन के ज्यूस की 10 बूंदें और दो चम्मच शहद को एक ग्लास पानी में मिलाकर रोजाना पीने से दमा रोग में बहुत फायदा होता है।
2. अगर आपका गला खराब है तो लहसुुन के ज्यूस को गर्म पानी में मिलाकर गरारे करने से गले की खिचखिच में तुरंत आराम मिलता है।
3. लहसुुन के रस की 20 बूंदें और एक ग्लास अनार का ज्यूस मिलाकर पीने से किसी भी तरह की खांसी पूरी तरह से ठीक हो जाती है।
4. लहसुुन के ज्यूस को मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए सीधे ही चेहरे पर लगाया जा सकता है। लहसुुन के ज्यूस को दिन के समय में चेहरे पर लगाकर 5 मिनट के लिए रखना चाहिए और फिर इसे पानी के साथ धो लेना चाहिए। इस उपाय को मुंहासों के गायब होने तक अपनाया जा सकता है।
5. लहसुुन का ज्यूस कम बालों वाले लोगो के लिए वरदान की तरह है। इसे दिन में दो बार कम बाल वाली जगह पर लगाकर सुखने तक रखना चाहिए। इससे न सिर्फ नए बाल उगते हैं बल्कि रुसी और जूं जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है। 

6. लहसुुन के ज्यूस को दूध में मिलाकर रोजाना सुबह के समय पीने से महिलाओं में होने वाले बांझपन पर नियंत्रण किया जा सकता है।



7. लहसुुन के ज्यूस का प्रयोग किसी जहरीले जंंतु के काटने पर होने वाले दर्द से छुटकारा पाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।
8. लहसुुन के ज्यूस का सबसे कारगार गुण होता है शरीर में कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करना और कम बनाए रखना। इसका नियमित इस्तेमाल से ह्दयाघात और दूसरी ह्रदय संबंधी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। 
9. लहसुुन का ज्यूस खून को साफ करता है और उसे पतला रखकर शरीर में खून के प्रवाह को सुचारु बनाए रखता है।
10. लहसुुन का ज्यूस महिलाओं को स्वस्थ रखने में बहुत कारगर है। इसका रोजाना इस्तेमाल स्तनों को सही आकार देता है।

1. लहसुुन का ज्यूस हमेशा खाना खाने के बाद ही पीना चाहिए। 
2. लहसुुन का ज्यूस को दिन के वक्त और केवल सुखने तक ही लगे रहने देना चाहिए वर्ना यह आपकी स्किन को नुकसान पहुंचा सकता है।


3. ताजे लहसुुन से सबसे ज्यादा स्वाद और फायदा पाया जा सकता है।
4. झुर्रियों वाला लहसुुन नहीं खरीदना चाहिए
5. लहसून को धूप से बचाकर सूखी और ठंडी जगह में रखना चाहिए।
6. छिला हुआ लहसुुन या लहसुुन के ज्यूस को फ्रीज में नहीं रखना चाहिए।

6. लहसुुन के ज्यूस को दूध में मिलाकर रोजाना सुबह के समय पीने से महिलाओं में होने वाले बांझपन पर नियंत्रण किया जा सकता है।
 7. लहसुुन के ज्यूस का प्रयोग किसी जहरीले जंंतु के काटने पर होने वाले दर्द से छुटकारा पाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।

 
8. लहसुुन के ज्यूस का सबसे कारगार गुण होता है शरीर में कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करना और कम बनाए रखना। इसका नियमित इस्तेमाल से ह्दयाघात और दूसरी ह्रदय संबंधी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। 
9. लहसुुन का ज्यूस खून को साफ करता है और उसे पतला रखकर शरीर में खून के प्रवाह को सुचारु बनाए रखता है।
 10. लहसुुन का ज्यूस महिलाओं को स्वस्थ रखने में बहुत कारगर है। इसका रोजाना इस्तेमाल स्तनों को सही आकार देता है। 

अगले पेज पर पढ़ें सावधानियां...

1. लहसुुन का ज्यूस हमेशा खाना खाने के बाद ही पीना चाहिए। 
2. लहसुुन का ज्यूस को दिन के वक्त और केवल सुखने तक ही लगे रहने देना चाहिए वर्ना यह आपकी स्किन को नुकसान पहुंचा सकता है।




 
3. ताजे लहसुुन से सबसे ज्यादा स्वाद और फायदा पाया जा सकता है।
4. झुर्रियों वाला लहसुुन नहीं खरीदना चाहिए।
5. लहसून को धूप से बचाकर सूखी और ठंडी जगह में रखना चाहिए।
6. छिला हुआ लहसुुन या लहसुुन के ज्यूस को फ्रीज में नहीं रखना चाहिए।   
ये भी पढ़ें
ट्रैफिक नियमों का करें पालन, बचाएं अपना अमूल्य जीवन