ट्रैक्टर मार्च के दौरान किसान की मौत

Last Updated: मंगलवार, 26 जनवरी 2021 (15:04 IST)
नई दिल्ली। किसानों का एक बवाल में तब्दील हो गया। प्रदर्शनकारी बैरिकेड्‍स तोड़कर दिल्ली की सीमाओं में दाखिल हुए। प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस को आंसूगैस के गोले छोड़ना पड़े। किसान बैरिकेड तोड़कर लालकिले पर पहुंच गए।
प्रदर्शकारियों ने उस जगह अपना झंडा फहरा दिया, जहां 15 अगस्त को प्रधानमंत्री तिरंगा फहराते हैं। इस बीच खबरें है कि ट्रैक्टर पलटने से एक किसान की मौत हो गई। आईटीओ पर पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया तो किसानों ने पुलिस पर पथराव किया।
किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान मुकरबा चौक, ट्रांसपोर्ट नगर, आईटीओ और अक्षरधाम समेत अन्य स्थानों पर हुए टकराव के बीच किसानों का एक जत्था लाल किला परिसर में पहुंचकर किसानों का झंडा लहरा दिया है। आईटीओ पर टकराव के दौरान बड़ी संख्या में किसानों ने लाल किला परिसर में घुसकर अपना झंडा लहराया दिया। पंद्रह अगस्त को जिस स्थान पर झंडा फहराया जाता है उसके पास ही किसानों ने अपना झंडा लगा दिया।
सिंघु बॉर्डर से बैरिकेट तोड़कर आगे बढ़े किसानों का ट्रांसपोर्ट नगर और मुकरबा चौक पर टकराव के बाद आईटीओ पर जबरदस्त टकराव हुआ। पुलिस ने किसानों की भीड़ को इंडिया गेट की तरफ बढ़ने से रोकने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया।

आईटीओ पर भीषण टकराव में कई किसानों के साथ कुछ पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। फिलहाल आईटीओ पर हालात नियंत्रण में हैं। को देखते हुए कई समयपुर बादली, हैदरपुर बादली, जहांगीरपुरी, आदर्शनगर, आज़ादपुर, जीटीबी स्टेशन, माडल टाउन, विश्वविद्यालय, विधानसभा, आइटीओ समेत कई मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया है।



और भी पढ़ें :