मनोज तिवारी ने कहा, दिल्ली में भाजपा सरकार बनने पर टुकड़े-टुकड़े गैंग की खैर नहीं

Last Updated: बुधवार, 29 जनवरी 2020 (17:29 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मनोज तिवारी ने में पार्टी की भारी जीत का दावा करते हुए बुधवार को कहा कि सरकार बनने के एक महीने के भीतर 'टुकड़े-टुकड़े गैंग' पर आरोप पत्र दाखिल करने की अनुमति दे दी जाएगी।
तिवारी ने यहां एक समाचार चैनल की ओर से आयोजित 'चुनावी मंच' कार्यक्रम में कहा कि सरकार देशद्रोह के आरोपियों के विरुद्ध आरोप पत्र दाखिल करने की अनुमति देने संबंधी फाइल पर वर्षों से कुंडली मारे बैठी है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में भाजपा सरकार बनते ही पहला बड़ा फैसला इन लोगों पर आरोप पत्र दाखिल करने की अनुमति देने का किया जाएगा। उन्होंने दावा किया कि दिल्ली में जनता दल (यूनाइटेड) और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के साथ सीटों का तालमेल हो जाने से गठबंधन 45 से 48 सीटें जीतेगा।
उन्होंने आम आदमी पार्टी (आप) सरकार पर कोई वादा पूरा न करने का आरोप लगाते हुए कहा कि स्कूलों की स्थिति सुधारने संबंधी आप सरकार के दावे की उनके (तिवारी) के हाल के कुछ क्षेत्रों के दौरे से पोल खुल गई है।

विद्यालयों का दौरा करने के दौरान कई विद्यार्थियों ने आरोप लगाया कि स्कूलों में मात्र दो-ढाई घंटे ही पढ़ाई होती है। कई स्कूलों के भवन खस्ता हालत में मिले। उन्होंने कुछ ऐसे बिल दिखाते हुए कहा कि इनमें 200 यूनिट से कम विद्युत खपत करने वाले उपभोक्ताओं से भी शुल्क लिया जा रहा है। इससे मुफ्त बिजली के आप सरकार के दावे खोखले साबित हो रहे हैं।
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर पर आपत्तिजनक नारे लगाने के आरोप को खारिज करते हुए कहा कि ठाकुर ने ऐसा कुछ नहीं कहा है कि वह जनता कुछ नारे लगा रही थी और जनता को कौन रोक सकता है।

उन्होंने सांसद प्रवेश वर्मा के दिल्ली में भाजपा सरकार के बनने के 1 महीने के भीतर अवैध भूमि पर बनाई गई मस्जिदों को ढहा देने संबंधी बयान का बचाव करते हुए कहा कि अवैध भूमि पर कोई भी निर्माण हो, उसे ढहाया ही जाना चाहिए।
तिवारी ने कहा कि आप की शह पर शाहीन बाग में नागरिकता (संशोधन) कानून के खिलाफ दिया जा रहा धरना भाजपा सरकार बनने के बाद स्वत: समाप्त हो जाएगा, क्योंकि लोगों को उकसाने और भड़काने वाले नदारद हो जाएंगे तो लोग वहां से खुद-ब-खुद हट जाएंगे।

उन्होंने कहा कि वे विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ना चाहते हैं और दिल्ली में भाजपा सरकार बनने पर राजधानी को प्रदूषण, गंदगी और यातायात जाम से मुक्ति दिलाकर यहां की जनता को सारी सहूलियतें आसानी से उपलब्ध कराई जाएंगी।


और भी पढ़ें :