1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. कोरोना वायरस
  4. RSS made this plan to fight against the third wave of Corona
Written By
पुनः संशोधित रविवार, 11 जुलाई 2021 (18:19 IST)

कोरोना की तीसरी लहर से जंग के लिए RSS ने बनाई यह योजना, स्वयंसेवकों को दी जाएगी ट्रेनिंग

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कोरोनावायरस (Coronavirus) के संभावित तीसरी लहर का सामना करने हेतु देशव्यापी 'कार्यकर्ता प्रशिक्षण' का आयोजन करेगा तथा यह प्रशिक्षित कार्यकर्ता लगभग 2.5 लाख स्थानों पर पहुंचेंगे। संघ की 27166 शाखाएं अब पुनः मैदान में प्रारंभ हो गई है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक में संगठनात्मक गतिविधियों की चर्चा के साथ ही कोरोना की दूसरी लहर से उत्पन्न परिस्थितियों की व्यापक रूप से चर्चा हुई तथा प्रांतों में हुए सेवा कार्यों की समीक्षा की गई। स्वयंसेवकों द्वारा संचालित वैक्सीन के टीकाकरण हेतु सुविधा केंद्र व प्रोत्साहन के अभियानों की भी समीक्षा की गई।

कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए पूरे देश में शासन-प्रशासन का सहयोग करने एवं संभावित पीड़ितों की सहायता हेतु विशेष 'कार्यकर्ता प्रशिक्षण' का आयोजन किया जाएगा। ऐसी परिस्थिति में समाज का मनोबल बढ़ाने के लिए आवश्यक सभी जानकारी उचित समय पर लोगों तक पहुंचाने हेतु यह प्रशिक्षित कार्यकर्ता लगभग 2.5 लाख स्थानों तक पहुंचेंगे।
यह प्रशिक्षण अगस्त माह में पूर्ण किया जाएगा तथा सितंबर से जनजागरण द्वारा हर गांव व बस्ती में कई स्वयंसेवी लोगों व संस्थाओं को इस अभियान में जोड़ा जाएगा। इस प्रशिक्षण में कोरोना से बचाव हेतु बच्चों व माताओं के लिए विशेष रूप से आवश्यक सावधानियां व उपायों को शामिल किया गया है।
जैसे-जैसे कोरोना के प्रकोप के पश्चात स्थितियां सामान्य हो रही हैं। संघ शाखाओं का संचालन भी मैदान में प्रारंभ हुआ है। बैठक में प्राप्त जानकारी के अनुसार देशभर में वर्तमान में कुल 39,454 शाखाएं संचालित हो रही हैं, जिसमें 27,166 शाखाएं अब मैदान में लग रही हैं तथा 12,288 ई-शाखाएं हैं।

साथ ही साप्ताहिक मिलन कुल 10,130 है, जिसमें प्रत्यक्ष रूप से मैदान में 6510 पुनः प्रारंभ हुए तथा ई-मिलन 3620 है। कोरोना के लॉकडाउन काल में विशेष रूप से प्रारंभ हुए कुटुंब मिलन देशभर में 9637 हैं।
ये भी पढ़ें
असम सरकार की बड़ी पहल, Corona से अपने पति को खोने वाली विधवाओं को 2.5 लाख रुपए देने की योजना शुरू