फ्रांस में नहीं लगेगा LockDown, कोरोना से जंग में बूस्टर डोज बना हथियार

Last Updated: शुक्रवार, 26 नवंबर 2021 (09:21 IST)
पेरिस। ने देश में संक्रमण के मामले चिंताजनक रूप से बढ़ रहे हैं। लेकिन इसके बावजूद सरकार ने देश में फिर से लगाने के बजाय सभी वयस्कों को कोविड-19 रोधी टीके की 'बूस्टर डोज' (अतिरिक्त खुराक) देने का फैसला किया है। फ्रांस में कोविड-19 के दैनिक मामलों की संख्या 30,000 से पार चली गई है। अस्पतालों में भर्ती होने और संक्रमण से मौत के मामले भी बढ़ रहे हैं।

फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्री ओलिवियर वेरन ने जानकारी देते बताया कि इस दौरान उन्होंने कोविड-19 रोधी टीके की दूसरी और तीसरी खुराक के बीच के अंतराल को 6 से 5 महीने तक कम करने की घोषणा की तथा राष्ट्रव्यापी 'बूस्टर' अभियान शुरू करने के लिए फ्रांस के पास पहले से ही पर्याप्त टीके उपलब्ध हैं।

वेरन ने सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने और कोविड-19 के दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करने पर जोर देते हुए कहा कि अगर किसी ने 'बूस्टर डोज' नहीं ली, तो उसका 'कोविड-19 पास' अमान्य माना जाएगा। यह 'पास' कई बंद स्थानों पर जाने के लिए अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में भर्ती मरीजों में टीका लगवा चुके लोगों की तुलना में 10 गुना वैसे मरीज हैं, जिन्होंने टीका नहीं लगवाया है। संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर मोरक्को ने शुक्रवार से अगले आदेश तक फ्रांस आने-जाने वाली सभी उड़ानों पर रोक लगा दी।



और भी पढ़ें :