पंजाब, उत्तराखंड और छत्तीसगढ़ में खुले स्कूल, इन नियमों का करना होगा पालन

पुनः संशोधित सोमवार, 2 अगस्त 2021 (08:58 IST)
नई दिल्ली। देश में संक्रमण के मामलों में रफ्तार में आई कमी के साथ प्रतिबंधों में भी ढील दी जा रही है। देश के 3 राज्यों में आज से खोलने की इजाजत दे दी गई है। आज छत्तीसगढ़, पंजाब, उत्तराखंड में स्कूल खुल गए हैं।
राज्य सरकारों ने स्कूलों के लिए गाइडलाइन भी जारी की है और कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने का निर्देश भी दिया है। करीब डेढ़ साल के बाद स्कूल खुले। इससे छात्रों के चेहरों पर भी मुस्कान आई। छात्रों ने कहा कि हम बहुत दिनों पर बाद स्कूल आ रहे हैं, बहुत अच्छा लग रहा है। ऑनलाइन क्लास लेकर बहुत बोर हो गई थी।
में सभी कक्षाओं के स्कूल खुले : पंजाब में सभी कक्षाओं के लिए स्कूलों को फिर से खोल दिया गया है। हालांकि इस दौरान स्कूलों को कोरोना नियमों
का पालन करना जरूरी है। स्टाफ का वैक्सीनेशन भी आवश्यक है। पंजाब में 11वीं और 12वीं क्लास के स्कूल 26 जुलाई से खोले जा चुके हैं। इस दौरान ऑनलाइन लर्निंग-टीचिंग का ऑप्शन भी जारी रखा गया है।

उत्तराखंड में अभिभावकों की सहमति अनिवार्य : उत्तराखंड में भी 2 अगस्त से 9वीं क्लास से लेकर 12वीं क्लास तक के स्कूल खोल दिए गए हैं। कक्षा 6 से 8वीं तक के स्कूल 16 अगस्त से खोले जाएंगे। हालांकि स्कूल आने वाले बच्चों को अभिभावकों की सहमति अनिवार्य की गई है। स्कूलों को कोविड प्रोटोकॉल का भी पूरी तरह से पालन करना होगा सरकार द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि स्कूलों को एक नोडल अधिकारी नियुक्त करना होगा जो छात्रों की ओर से कोविड के उचित व्यवहार को सुनिश्चित करेगा और किसी भी उल्लंघन के मामले में कार्रवाई करेगा।

छत्तीसगढ़
में अभिभावकों का विरोध :
छत्तीसगढ़ में 10वीं और 12वीं कक्षा के लिए सरकारी एवं निजी स्कूल सोमवार से 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ दोबारा खुलेंगे, हालांकि इसके लिए शर्त यह है कि संबंधित जिलों में कोविड संक्रमण दर पिछले सात दिन से एक प्रतिशत हो।

हालांकि स्कूली छात्रों के अभिभावकों के राज्य स्तरीय निकाय ने इस कदम का विरोध किया है और कहा है कि सरकार को स्कूलों को दोबारा खोलने की अनुमति देने से पहले महामारी की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए कुछ और समय इंतजार करना चाहिए था।



और भी पढ़ें :