मध्यप्रदेश में ग्वालियर, शिवपुरी में कोरोना पॉजिटिव के 2 नए केस, प्रशासन ने लगाया कर्फ्यू

Author विकास सिंह| Last Updated: मंगलवार, 24 मार्च 2020 (19:24 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना अब धीमे धीमे अपने पैर पसार रहा है। मंगलवार को प्रदेश में कोरोना के दो नए मामले सामने आ है। जबलपुर और भोपाल के बाद अब सूबे के चंबल इलाके में कोरोना ने अपनी दस्तक दे दी है। कोरोना पॉजिटिव का पहला मामला ग्वालियर में सामने आया जिसमें पीड़ित हाल में ही खजुराहो से वापस ग्वालियर लौटा था।
वहीं दूसरा पॉजिटिव केस शिवपुरी में सामने आया है। शिवपुरी में जो युवक पॉजिटिव पाया गया है वह पिछले दिनों दुबई से लौटा है। प्रशासन ने दोनों पीड़ितों को जिला अस्पताल में आइसोलेशन में रखा है। वहीं कोरोना पॉजिटिव के दो मामले सामने आने के बाद प्रशासन ने ग्वालियर और शिवपुरी में भी कर्फ्यू लगा दिया है।

इसके पहले जबलपुर में कोरोना के 6 और भोपाल में एक पॉजिटव केस सामने आ चुका है। सभी पीड़ितों का डॉक्टरों की निगरानी में इलाज चल रहा है। वहीं भोपाल और जबलपुर में कर्फ्यू के बाद मंगलवार को पुलिस प्रशासन सख्ती से इसका पालन करते हुए दिखाई दी। भोपाल में पुलिस ने बिना वजह घर के बाहर निकलने पर लोगों का जमकर फटकार लगाई और उनको पुलिसिया अंदाज में समझाया।
कोरोना संक्रामक रोग घोषित -
राज्य सरकार ने प्रदेश में नोवल कोराना वायरस को संक्रामक रोग घोषित किया है। वहीं इसकी रोकथाम में सहयोग के लिये भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर को कोविड-19 उपचार संस्थान चिन्हाकित किया गया है। इस हॉस्पिटल में केवल कोविड -19 के मरीजों का ही उपचार किया जायेगा।

शिवराज की लोगों से अपील - मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने को लेकर लोगों से अपील की है। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की 'जनता कर्फ्यू' की अपील से मिले जन-समर्थन की सराहना करते हुए जनता से अपील की है कि कोरोना रोग की रोकथाम का एक मात्र उपाय, इसकी कड़ी को तोड़ना है। उन्होंने जन-प्रतिनिधियों से अपील की है कि कोरोना वायरस की महामारी को समाप्त करने में अपनी पूरी क्षमता लगायें। प्रशासन के लॉकडाउन आदेश का पूरी तरह पालन करें। अनावश्यक रूप से घरों से बाहर न निकलें। जन सुविधा के लिये सभी आवश्यक सेवाओं को इससे मुक्त रखा गया है।


और भी पढ़ें :