सुशांत केस : सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के आरोपों को बताया काल्पनिक, बोले- एक्टर की बहनों पर एफआईआर गैरकानूनी

Last Updated: गुरुवार, 29 अक्टूबर 2020 (14:19 IST)
ने दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की बहनों के खिलाफ रिया चक्रवर्ती की शिकायत पर एफआईआर दर्ज करने को लेकर मुंबई पुलिस को फटकार लगाई है। सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती की ओर से सुशांत की बहनों पर लगाए गए आरोपों को काल्पनिक और अटकलबाजी पर आधारित बताया है।
सीबीआई ने यह बात बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर करते हुए कही है। बीते महीने रिया चक्रवर्ती ने मुंबई के बांद्रा पुलिस थाने में अभिनेता की बहन प्रियंका और के खिलाफ सुशांत सिंह राजपूत की दवाइयों का नकली पर्चा बनाने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज करवाई थी।

रिया चक्रवर्ती ने अपने वकील सतीश मानेशिंदे के जरिए बांद्रा पुलिस थाने में नकली मेडिकल पर्चा बनाने के आरोप में प्रियंका और मीतू सिंह के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। अब रिया चक्रवर्ती के इन आरोपों को सीबीआई ने पूरा तरह से काल्पनिक और अटकलबाजी पर आधारित बताया है।
एजेंसी ने कहा कि ऐसी अटकलों के आधार पर एफआईआर दर्ज नहीं की जा सकती है। सीबीआई ने यह बात सुशांत सिंह राजपूत की बहन प्रियंका सिंह और मीतू सिंह की याचिका के जवाब में कही है। सीबीआई ने यह भी बताया कि वह सुशांत सिंह राजपूत के पिता के. के. सिंह द्वारा रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के लोगों पर दर्ज शिकायत की जांच कर रही है।

हाल ही में प्रियंका और मीतू ने बॉम्बे हाईकार्ट में याचिका दायर करते हुए मुंबई पुलिस द्वारा उनके खिलाफ दर्ज एफआईआर को निरस्त करने का आग्रह किया है।
प्रियंका और मीतू की इस याचिका के खिलाफ रिया चक्रवर्ती ने मंगलवार को बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। उन्होंने कोर्ट से अनुरोध किया है कि दिवंगत अभिनेता की बहन प्रियंका और मीतू सिंह के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने वाली याचिका को खारिज किया जाए।

रिया चक्रवर्ती ने अपनी याचिका में कहा था कि प्रियंका और मीतू सिंह ने एनडीपीएस एक्ट का उल्लघंन किया है। उन्होंने कहा, उक्त पर्चे की दवाइयों के पांच दिन बाद ही सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु हो गई, जिसमें उनकी बहन (प्रियंका) और डॉ. तरुण कुमार के इशारे पर उन्हें गैरकानूनी तरीके से दवाइयां दी गई थीं। इसलिए इसकी पूरी जांच होनी बहुत जरूरी है।



और भी पढ़ें :