प्रियंका चोपड़ा के पिता गाते थे मस्जिद में, एक्ट्रेस ने बताया कैसे इस्लाम, ईसाई और हिंदुत्व के साथ हुई परवरिश

पुनः संशोधित शुक्रवार, 19 मार्च 2021 (18:34 IST)
प्रियंका चोपड़ा बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपनी एक अलग पहचान बना चुकी हैं। वह बीते कई दिनों अपनी बुक 'अनफिनिश्ड' को लेकर सुर्खियों में बनी हुई हैं। हाल ही में प्रियंका ओपरा विनफ्रे के शो में कई दिलचस्प खुलासे किए हैं। ओपरा विनफ्रे से बातचीत का एक वीडियो सामने आया है, जहां पर उन्होंने धार्मिक विचारों और धर्मनिरपेक्षता पर खुलकर बात की है।

प्रियंका चोपड़ा ने ओपरा के एक सवाल के जवाब में कहा कि मुझे लगता है मेरा आध्यात्मिक आधार रहा है। भारत में ऐसा कम ही देखा जाता है कि किसी के पास आध्यात्मिक आधार न हो। प्रियंका ने इसके बाद बताया कि कैसे वह कई धर्म से एक साथ शुरू से ही जुड़ी रही हैं।

प्रियंका चोपड़ा ने कहा कि उनकी परवरिश एक धर्मनिरपेक्ष माहौल में हुई है। उनकी जिंदगी पर शुरू से ही हिंदू, मुस्लिम और ईसाई धर्म का प्रभाव रहा है। प्रोमो में ओपरा ने प्रियंका से भारत में आध्यात्मिक ऊर्जा के बारे में सवाल किया। प्रियंका इस पर कहती हैं कि मुझे लगता है कि भारत में ये उतना कठिन नहीं है। आप ठीक हैं।

उन्होंने कहा, हमारे देश में अलग-अलग कई धर्म है। मेरे पिता एक मस्जिद में गाते थे। मैं एक कॅान्वेंट स्कूल में पली बढ़ी हूं। मैं ईसाई धर्म से वाकिफ थी। मुझे इस्लाम के बारे में पता है। मैं एक हिंदू परिवार में पली बढ़ी हूं। आध्यात्मिकता भारत का बहुत बड़ा हिस्सा मुझे हिंदू धर्म के बारे में जानकारी है।


आध्यात्मिकता भारत का बहुत बड़ा हिस्सा है। जिसे आप वास्तव में अनदेखा नहीं कर सकते। इसे नजरअंदाज भी नहीं कर सकते। एक शक्ति मौजूद है मुझे उसमें विश्वास है।
प्रियंका चोपड़ा ने आगे कहा कि मेरे पिता ने बताया कि सभी धर्मों में सभी भगवान एक ही रास्ता बताते हैं। मैं एक हिंदू हूं। मैं प्रार्थना करती हूं। मेंरे घर में मंदिर है। सच मैं ऐसा मानती हूं कि एक शक्ति मौजूद है और मुझे उसमें विश्वास है।



और भी पढ़ें :