पहले जातिवाद की बात होती थी, अब जनता को रिपोर्ट कार्ड दिखाना होता है : नड्डा

jp nadda
Last Updated: शुक्रवार, 16 अक्टूबर 2020 (16:47 IST)
बांका (बिहार)। जेपी नड्डा ने शुक्रवार को दावा किया कि पहले चुनावों में भाषणों में जातिवाद, लड़ाई-झगड़े को बढ़ावा देने और समाज को तोड़ने के प्रयास होते थे लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आने के बाद अब जनता को अपने काम का रिपोर्ट कार्ड दिखाना होता है।
भाजपा अध्यक्ष ने बांका में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी के आने के बाद देश की राजनीतिक संस्कृति बदली है और अब जनता को अपने काम का रिपोर्ट कार्ड दिखाना होता है। नड्डा ने कहा कि 2015 में मोदी ने के लिए 1 लाख 25 हजार करोड़ रूपए के पैकेज की घोषणा की थी।
भाजपा अध्यक्ष ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को जनादेश देने की अपील करते हुए कहा कि सजग समाज वही होता है, जो सजग नेता को पहचान लेता है, सजग नेता को शाबाशी देता है, अपना हित जानता है और अपने अहित से बचने के लिए तैयार रहता है। के सिल्क के महत्व को रेखांकित करते हुए नड्डा ने युवाओं से मोदी के आह्वान पर 'वोकल फॉर लोकल' होने की अपील की।
उन्होंने कहा कि भागलपुर के सिल्क की वर्ल्ड में ब्रांडिंग करो, भारत सरकार और बिहार सरकार आपकी मदद करेगी। उन्होंने दावा किया कि राजग सरकार में ही रेलवे, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोड हर क्षेत्र में बिहार का विकास हुआ है। नड्डा ने अपने संबोधन के दौरान जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त करने, राम मंदिर के निर्माण शुरू होने और एक बार में तीन तलाक को समाप्त करने का भी जिक्र किया।
उन्होंने कहा कि वर्षों से हम सभी की इच्छा थी कि भव्य राम मंदिर का निर्माण हो लेकिन कांग्रेस पार्टी इसको लटकाने, अटकाने, भटकाने का काम करती थी। उन्होंने कहा कि हम आभारी हैं कि सुप्रीम कोर्ट ने फैसला किया, मोदीजी ने शिलान्यास किया और अब भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा।
नड्डा ने कहा कि भारत की फौज चीन के सामने डटकर खड़ी है और पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने का भी काम मोदी के नेतृत्व ने किया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले 6 साल में अरुणाचल प्रदेश से लद्दाख तक व्यापक पैमाने पर सड़क अवसंरचना तैयार की गई है तथा सीमावर्ती क्षेत्रों में पुल एवं हवाई अड्डे बने हैं। भाजपा अध्यक्ष ने राजद पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि वो दिन याद है, जब पटना के डाक बंगला चौराहे पर शाम 7 बजे के बाद खड़े नहीं हो पाते थे।
नड्डा ने कहा कि ये आज विकास की बात करते हैं लेकिन यही दल है जिसके राज में शहाबुद्दीन को राजनीतिक संरक्षण मिलता रहा और नीतीश कुमार की जब सरकार आई तब शहाबुद्दीन को जेल भेजा गया। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस महामारी में मोदीजी ने साहसी निर्णय लेते हुए समय पर लॉकडाउन लगाया और देश में स्वास्थ्य संसाधनों को मजबूत किया तथा देशवासियों का जीवन सुरक्षित किया। नड्डा ने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार ने 1.41 करोड़ राशन कार्ड धारकों के घर में प्रत्यक्ष नकद अंतरण से सरकारी मदद पहुंचाई है। (भाषा)



और भी पढ़ें :