शुक्र का 13 जुलाई को मिथुन राशि में गोचर, 23 दिनों तक 7 राशियां रहें सतर्क

पुनः संशोधित मंगलवार, 12 जुलाई 2022 (18:58 IST)
हमें फॉलो करें
2022 : 13 जुलाई 2022 बुधवार के दिन शुक्र ग्रह का मिथुन राशि में सुबह 11:01 बजे राशि परिवर्तन होगा। शुक्र मिथुन राशि में प्रवेश के चलते 7 राशियों को सतर्क रहना होगा क्योंकि हो सकता है उन पर शुक्र का अशुभ असर।


कर्क राशि : आपकी राशि के 12वें भाव में पारिवारिक जीवन के लिए शुभ नहीं है। अचानक खर्चें बढ़ सकते हैं। सेहत का ध्यान रखना होगा। हालांकि लंबी यात्रा के योग भी बनेंगे। दुर्घटना से बचना होगा। हालांकि विदेशी व्यापार से लाभ होगा।

कन्या राशि : आपकी राशि के दसवें भाव में शुक्र का गोचर मिलेजुले परिणाम देगा। आपका धर्म की ओर झुकाव बढ़ेगा। नौकरी या राजनीति में हैं तो शत्रुओं से सतर्क रहने की जरूरत है। व्यापार में लाभ होगा।

वृश्चिक राशि : आपकी राशि के आठवें भाव में शुक्र का गोचर शुभ नहीं माना जा रहा है। दांपत्य जीवन में तनाव हो सकता है। आकस्मिक घटना दुर्घटना हो सकती है। यात्रा के योग है। खर्चे बढ़ सकते हैं। छोटा-मोटा कोई विवाद हो सकता है। सेहत का ध्यान रखना होगा। व्यापार में भी सतर्क रहें। नौकरीपेशा जातकों को असुरक्षा महसूस होगी।
धनु राशि : आपकी राशि के सातवें भाव में शुक्र का गोचर दांपत्य जीवन में वाद विवाद करा सकता है। साझेदारी के व्यापार में भी सतर्क रहें। खुद की और जीवनसाथी की सेहत का ध्यान रखना होगा। खुद के व्यापार है तो लाभ होने की संभावना है। नौकरीपेशा हैं तो मिलाजुला असर होगा।

मकर राशि : आपकी राशि के छठे भाव में शुक्र का गोचर जीवनसाथी या प्रेम संबंधों में तनाव पैदा कर सकता है। संतान की सेहत का ध्यान रखना होगा। हालांकि छात्रों के लिए यह समय अनुकूल हो सकता है। नौकरी और व्यवसाय में मिलाजुला असर रहेगा। लेन-देन करते समय सावधानी रखें।
कुंभ राशि : आपकी राशि के पांचवें भाव में शुक्र का गोचर प्रेम संबंधों के लिए अनुकूल है। संतान पक्ष की ओर से भी शुभ संकेत मिल सकते हैं। हालांकि करियर, नौकरी और व्यापार में मिलाजुला प्रभाव देखने को मिलेगा। आर्थिक दृष्टि से गोचर सही है।

मीन राशि : आपकी राशि के चतुर्थ भाव में शुक्र का गोचर घर परिवार में सुख शांति कायम रखेगा। सुख सुविधाओं का विस्तार होगा। हालांकि निवेश में सावधानी रखें। आप कर्ज़ में डूब सकते हैं। पेशेवर जीवन अनिश्चितताओं से भरा रहेगा, सतर्क रहें।



और भी पढ़ें :