मंगलवार, 27 फ़रवरी 2024
  • Webdunia Deals
  1. धर्म-संसार
  2. ज्योतिष
  3. ज्योतिष आलेख
  4. Ganga Saptami 2021
Written By

Ganga Saptami 2021: 18 मई को गंगा सप्तमी, ये खास 8 उपाय देंगे सेहत, यश और सम्मान

Ganga Saptami 2021: 18 मई को गंगा सप्तमी, ये खास 8 उपाय देंगे सेहत, यश और सम्मान - Ganga Saptami 2021
Ganga Saptami 2021
 

इस वर्ष गंगा सप्तमी पर्व मंगलवार, 18 मई 2021 को मनाया जा रहा है। गंगा नदी हिन्दुओं की आस्था का केंद्र है और अनेक धर्मग्रंथों में गंगा महत्व का वर्णन देखने को मिलता है।  
 
पौराणिक शास्त्रों में उल्लेख है कि वैशाख शुक्ल सप्तमी के दिन मां गंगा स्वर्गलोक से भगवान शिव की जटाओं में पहुंची थी इसलिए इस दिन को गंगा सप्तमी, गंगा जयंती के रूप में मनाया जाता है।

इस दिन मां गंगा का पूजन किया जाता है। इस दिन गंगा जी की उत्पत्ति हुई थी। अत: वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को गंगा सप्तमी कहा जाता है। अत: गंगा सप्तमी के दिन निम्न उपाय करने से मनुष्य के पापों का क्षय होता है तथा मोक्ष की प्राप्ति होती है।
 
 
गंगा सप्तमी के 8 उपाय- 
 
* वैसे तो गंगा स्नान का अपना अलग ही महत्व है, लेकिन वैशाख शुक्ल सप्तमी के दिन गंगा स्नान करने से मनुष्य सभी दुखों से मुक्ति पा जाता है।
 
* इस दिन पुण्यदायी कार्य करने से सभी पापों का क्षय होता है।
 
* इस दिन दान-पुण्य का विशेष महत्व है अत: इस तिथि पर गंगा स्नान, तप ध्यान तथा दान-पुण्य करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है।
 
* मान्यता है कि इस दिन गंगा पूजन से मांगलिक दोष से ग्रसित जातकों को विशेष लाभ प्राप्त होता है। विधि-विधान से किए गए गंगा का पूजन अमोघ फल प्रदान करता है।
 
* कहा जाता है कि गंगा नदी में स्नान करने से दस पापों का हरण होकर अंत में मुक्ति मिलती है।
 
* गंगा सप्तमी के पर्व पर मां गंगा में डुबकी लगाने से मनुष्य के सभी पाप धुल जाते हैं।
 
* इस पर्व के लिए गंगा मंदिरों सहित अन्य मंदिरों पर भी विशेष पूजा-अर्चना की जाती है।
 
* गंगा सप्तमी के दिन गंगा पूजन एवं स्नान से रिद्धि-सिद्धि, यश-सम्मान की प्राप्ति होती है।
 
जीवनदायिनी गंगा में स्नान, पुण्यसलिला नर्मदा के दर्शन और मोक्षदायिनी शिप्रा के स्मरण मात्र से मोक्ष मिल जाता है।

ये भी पढ़ें
सोमवार को ये 8 कार्य बिलकुल न करें, वर्ना पछताएंगे