मंगलवार, 16 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. धर्म-संसार
  2. ज्योतिष
  3. ज्योतिष आलेख
  4. Dwadashi Shradh 2023
Written By

Shraddha paksha 2023: द्वादशी के श्राद्ध की खास बातें, जानिए शुभ मुहूर्त

Shraddha paksha 2023: द्वादशी के श्राद्ध की खास बातें, जानिए शुभ मुहूर्त - Dwadashi Shradh 2023
Pitru Paksha 2023: इन दिनों सोलह श्राद्ध का पावन पितृ पक्ष चल रहा है। हिन्दू धर्मशास्त्रों के अनुसार श्राद्ध पक्ष की 16 तिथियां होती हैं और उनमें से कुछ महत्वपूर्ण तिथियों में द्वादशी तिथि का श्राद्ध मंगलवार, 10 अक्टूबर 2023 को मनाया जाएगा। मान्यतानुसार श्राद्ध पक्ष में पिंडदान और तर्पण जरूर करना चाहिए, क्योंकि भले ही उक्त तिथि को आपके किसी दिवंगत की तिथि न हो फिर भी श्राद्ध करना चाहिए।

आइए जानते हैं द्वादशी श्राद्ध के बारे में- 
 
1. जिन लोगों का देहांत इस दिन अर्थात तिथि अनुसार कृष्ण या शुक्ल दोनों पक्षों में से किसी भी पक्ष की द्वादशी तिथि हो हुआ है, उनका श्राद्ध इस दिन किया जाता है। जो कि इस बार 10 अक्टूबर को द्वादशी श्राद्ध रहेगा।
 
2. द्वादशी तिथि को उन लोगों का श्राद्ध भी किया जाता है जिन्होंने स्वर्गवास के पहले संन्यास ले लिया था। उनका देहांत किसी भी तिथि को हुआ हो परंतु श्राद्ध पक्ष की द्वादशी तिथि को उनका श्राद्ध जरूर करना चाहिए। इस तिथि को 'संन्यासी श्राद्ध' के नाम से भी जाना जाता है।
 
3. एकादशी और द्वादशी में वैष्णव संन्यासी का श्राद्ध करते हैं। अर्थात् इस तिथि को उन लोगों का श्राद्ध किए जाने का विधान है, जिन्होंने संन्यास लिया हो।
 
4. इस दिन पितरगणों के अलावा साधुओं और देवताओं का भी आह्‍वान किया जाता है।
 
5. इस दिन संन्यासियों को भोजन कराया जाता है या भंडारा रखा जाता है।
 
6. इस श्राद्ध में तर्पण और पिंडदान के बाद पंचबलि कर्म भी करना चाहिए।
 
7. इस तिथि में 7 ब्राह्मणों को भोजन कराने का विधान है।
 
आइए जानते हैं द्वादशी श्राद्ध के शुभ मुहूर्त- 
 
द्वादशी श्राद्ध : मंगलवार, 10 अक्टूबर 2023 को
द्वादशी तिथि का प्रारंभ- 10 अक्टूबर 2023 को 06.38 ए एम से, 
द्वादशी तिथि की समाप्ति- 11 अक्टूबर 2023 को 09.07 ए एम तक।
 
कुतुप मुहूर्त- 10.52 ए एम से 11.41 ए एम
अवधि- 00 घंटे 49 मिनट्स
 
रौहिण मुहूर्त- 11.41 ए एम से 12.30 पी एम
अवधि- 00 घंटे 49 मिनट्स
 
अपराह्न काल- 12.30 पी एम से 02.57 पी एम
अवधि- 02 घंटे 27 मिनट्स
 
आज का शुभ समय
ब्रह्म मुहूर्त- 03.34 ए एम से 04.21 ए एम 
प्रातः सन्ध्या 03.58 ए एम से 05.08 ए एम
अभिजित मुहूर्त- 10.52 ए एम से 11.41 ए एम 
विजय मुहूर्त- 01.19 पी एम से 02.08 पी एम
गोधूलि मुहूर्त- 05.24 पी एम से 05.47 पी एम 
सायाह्न सन्ध्या 05.24 पी एम से 06.34 पी एम
अमृत काल 09.33 पी एम से 11.21 पी एम 
निशिता मुहूर्त- 10.52 पी एम से 11.39 पी एम

अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, ज्योतिष आदि विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित वीडियो, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं। वेबदुनिया इसकी पुष्टि नहीं करता है। इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।