West Bengal Assembly Elections 2021 : ममता बनर्जी बोलीं- मुझे जिंदगी में कई बार पीटा गया, पहले CPM वाले पीटते थे अब BJP ने किया शुरू

पुनः संशोधित बुधवार, 17 मार्च 2021 (20:17 IST)
हमें फॉलो करें
गोपीबल्लवपुर/लालगढ़। पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने बुधवार को आरोप लगाया कि नंदीग्राम में उन पर ‘हमले’ की साजिश रचने वाली भाजपा राज्य में विधानसभा चुनावों से पहले उन्हें घर के अंदर रहने को मजबूर करना चाहती थी।

झाड़ग्राम जिले के गोपीबल्लवपुर और लालगढ़ में कई रैलियों को संबोधित करते हुए बनर्जी ने आरोप लगाया कि पहले मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) उन पर शारीरिक हमला किया करती थी और अब भाजपा भी वही कर रही है।

बनर्जी ने एक व्हीलचेयर पर बैठकर चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि वे (भाजपा) मुझे घर के अंदर रखना चाहते थे ताकि मैं चुनाव के दौरान बाहर न जा सकूं। उन्होंने मेरा पैर घायल कर दिया।
उन्होंने क्षेत्र के लोगों से के उम्मीदवारों को वोट देने का आग्रह करते हुए कहा कि वे मेरी आवाज को नहीं दबा सकते, हम भाजपा को हरा देंगे। उन्होंने कहा कि हमारे उम्मीदवारों के लिए आप जो वोट डालेंगे, वह मेरे लिए होगा।

बनर्जी ने दावा किया कि भाजपा ने 2019 में झाड़ग्राम लोकसभा सीट पर जीत दर्ज की थी, लेकिन पार्टी के सांसद ने इस क्षेत्र के लिए कुछ नहीं किया है। उन्होंने पिछले वर्षों में उनकी सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का उल्लेख किया।
बनर्जी ने कहा कि मेरे पैर में हाल ही में चोट लगी है, इससे पहले मेरे सिर में फ्रैक्चर हो गया था, मेरे हाथ टूटे थे, मेरे पेट का एक ऑपरेशन हुआ था ... पूरे जीवन मुझ पर हमले होते रहे हैं।

तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ने कहा कि उनकी पार्टी के कुछ ‘देशद्रोही जो पैसे से प्यार करते हैं’ भाजपा में शामिल हो गए।
उन्होंने कहा कि अगर आप मुझे चाहते हैं तो तृणमूल को वोट दें। अगर मेरे उम्मीदवार जीतते हैं तो मैं सरकार बना सकती हूं, अन्यथा मैं ऐसा नहीं कर पाऊंगी। बनर्जी ने भाजपा पर आरोप लगाया कि वह अपनी सभाओं और रैलियों में लोगों को लाने और विधानसभा चुनावों में अपने उम्मीदवारों को वोट देने के लिए धनबल का इस्तेमाल कर रही है।

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि वे राज्य के लोगों का नि:शुल्क कोविड-19 टीकाकरण चाहती हैं लेकिन केन्द्र उन्हें ऐसा नहीं करने दे रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने बिहार विधानसभा चुनावों से पहले वादा किया था कि राज्य के सभी लोगों को नि:शुल्क टीका लगाया जायेगा लेकिन उसने इस वादे को पूरा नहीं किया।
बनर्जी ने आरोप लगाया कि भाजपा शासित उत्तरप्रदेश ऐसी खराब स्थिति में है जहां महिलाओं के खिलाफ अत्याचार हो रहे है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बंगाल में कुछ चुनावी रैलियों को संबोधित किया है। उन्होंने कहा कि आज मैं दर्द के साथ आई हूं लेकिन जीत के बाद मैं अपने दो पैरों पर चलकर फिर से आऊंगी।
जारी किया TMC का घोषणापत्र :तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को ‘विकासोन्मुखी’ घोषणा-पत्र जारी किया। मुख्यमंत्री ने इसमें सभी परिवारों के लिए आय योजना, छात्रों को क्रेडिट कार्ड और ओबीसी में कई समुदायों को शामिल करने के लिए एक कार्यबल का गठन करने का वादा किया है।

राज्य में तृणमूल कांग्रेस शासन के दौरान गरीबी 40 प्रतिशत तक घट जाने का दावा करते हुए घोषणापत्र में किसानों को वार्षिक वित्तीय सहायता 6,000 रुपए से बढ़ाकर 10,000 रुपए करने का भी वादा किया गया है।
ममता ने कहा कि पहली बार बंगाल में हर परिवार को न्यूनतम आय प्राप्त होगी। इसके तहत 1.6 करोड़ सामान्य श्रेणी के परिवारों को 500 रुपए प्रति महीना, जबकि एससी/एसटी श्रेणी में आने वाले परिवारों को 1,000 रुपए प्रति महीना मिलेगा। यह रकम सीधे परिवार की महिला मुखिया के बैंक खाते में भेजी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 लाख की क्रेडिट सीमा के साथ छात्रों के लिए नई कार्ड योजना लाई जाएगी और इस पर सिर्फ चार प्रतिशत ब्याज देना होगा। उन्होंने कहा कि अगले 5 वर्षों में हम 10 लाख एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) इकाइयां तथा 2000 नयी बड़ी औद्योगिक इकाइयां लगाएंगे।

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि महिष्या, तिली, तामुल और साहा जैसी उन सभी जातियों को ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) का दर्जा दिलाने के लिए एक विशेष कार्यबल गठित करेंगे, जिन्हें ओबीसी के रूप में मान्यता नहीं प्राप्त है।

हम भारत सरकार से महतो (जाति) को (एसटी) अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने की सिफारिश करेंगे। उन्होंने कहा कि उत्तर बंगाल में तराई और दुआर क्षेत्र के विकास के लिए एक विशेष विकास बोर्ड का गठन किया जाएगा। (भाषा)



और भी पढ़ें :