यूपी में कोरोना वायरस को लेकर मुख्यमंत्री के कड़े दिशा निर्देश जारी...

अवनीश कुमार| पुनः संशोधित मंगलवार, 28 जनवरी 2020 (09:41 IST)
लखनऊ। उत्तरप्रदेश में को लेकर मुख्यमंत्री ने सोमवार देर शाम स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक की तथा संबंधित अधिकारियों को कड़े दिशा-निर्देश दिए हैं।
उन्होंने कहा है कि खासतौर से एयरपोर्ट पर भी विशेष सतर्कता बरती जाए, जहां से विदेशी नागरिक आ रहे हैं। वहीं स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया गया कि भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय से लगातार संपर्क स्थापित कर समन्वय बनाकर सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं।
बनाए जाएं : इसी के साथ ही मुख्यमंत्री ने समस्त जिले के स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया है कि हर जिला अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज में कम से कम 10 बेड के आइसोलेशन वार्ड बनाए जाएं और किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। इसी के साथ ही साथ मुख्यमंत्री ने इंडो-नेपाल बॉर्डर पर विशेष सतर्कता रखने की बात भी कही।
वायरस के लक्षण होने की आशंका : बताते चलें कि अभी तक कोरोना वायरस के मरीज चीन में ही पाए जाते थे लेकिन चीन से लौटकर आई बिहार की युवती और उसके बाद जयपुर में कोरोना वायरस के लक्षण होने की आशंका के चलते उत्तरप्रदेश सरकार किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरतना चाहती है।

स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक : इसी के चलते ही देर शाम योगी आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक करते हुए कड़े दिशा-निर्देश दिए हैं। हालांकि अभी तक बिहार और जयपुर में मिले केस में कोरोना वायरस की पुष्टि डॉक्टरों द्वारा नहीं की गई है।



और भी पढ़ें :