5 अंक है शुभ, भारत जीत सकता है 2 गोल्ड, 3 सिल्वर और 7 ब्रॉन्ज मेडल!

Last Updated: बुधवार, 21 जुलाई 2021 (17:29 IST)
नई दिल्ली: ''पोडियम पर जन गण मन'',भारत इस बार के ओलंपिक खेलों में अच्छी संभावनाओं के साथ प्रवेश कर रहा है। बेंगलुरु के अंग्रेजी अक्षरों के पंडित ने 'यूनीवार्ता' से कहा कि भारत में पंच तत्व की प्रधानता है भूमि , जल ,आग , आकाश और पानी । हमारे यहां मान्यता है इन पांचों से ही जीव की रचना हुई है , इस बार के खेल में 5 अंक की कुछ बातें हैं, मे 5 अक्षर है, टोक्यो में 5 अक्षर है , 2021 साल के अंको का योग 5 है , 23 तारीख से शुरू है इसका योग 5 है और इंडिया में भी 5 अक्षर है।
पोद्दार ने बताया कि भारत ने ओलम्पिक में आज तक 28 पदक जीते हैं , 28 की संख्या अपने आप में दोहराव की संख्या होती है। 28 साल के बाद कैलेंडर में उन दिनों और तारीख का दोहराव होता है , नक्षत्र 28 अपने आप को दोहराता है , मोबाइल का रिचार्ज 28 दिन के बाद अपने आपको दोहराता है। क्रिकेट का एक दिवसीय वर्ल्ड कप भारत ने 28 साल के बाद फिर से जीता था । इस प्रकार भारत के इस बार अधिक पदक जीतने की संभावना अधिक है। एक अनुमान के अनुसर भारत 2 गोल्ड 3 सिल्वर और 7 ब्रांज जीत कर ला सकता है।

अंत में सारे खिलाड़ियों को रक्त की हर बूंद की दुआओं के साथ कहना चाहता हूँ कि ओलंपिक्स शब्द की स्पेलिंग को छोड के, अगर शब्द का विच्छेदन करें तो बनता है , आल ( म )पिक, अब इसे ऐसे भी देखा जा सकता है अगर एम का मतलब मैडल समझे तो ये बनेगा ऑल मेडल पिक। इस प्रकार सारे खिलाड़ियों से आशा है -पिक आल मैडल।
भारतीय खिलाड़ी और टीमें 2020 की 18 खेल विधाओं में भाग लेंगी। इनमें तीरंदाजी, एथलेटिक्स, मुक्केबाजी, बैडमिंटन, घुड़सवारी, तलवारबाजी, गोल्फ, जिम्नास्टिक, हॉकी, जूडो, रोइंग, शूटिंग, नौकायन, तैराकी, टेबल टेनिस, टेनिस, भारोत्तोलन और कुश्ती शामिल हैं।

इस बार ओलंपिक जाने वाला यह अब तक का सबसे बड़ा भारतीय दल है । साल 2016 के रियो ओलंपिक में भारत ने 117 खिलाड़ी भेजे थे और टोक्यो ओलंपिक 2020 में 127 खिलाड़ी भेजे गए हैं।

गौरतलब है कि नौकायान टीम, वेटलिफ्टर मीराबाई चानू, निशानेबाजी टीम के बाद अधिकतर खिलाड़ी शनिवार को दिल्ली से टोक्यो रवाना हुए थे और रविवार को टोक्यो पहुंच गए थे। खेलमंत्री अनुराग ठाकुर की उपस्थिती में सभी खिलाड़ियों को गर्मजोशी से विदाई दी गई थी। (वार्ता)



और भी पढ़ें :