बेंगलुरु में होगा ‘इंडिया के उसेन बोल्‍ट’ माने जा रहे ‘श्रीनिवास गौड़ा’ का ट्रायल

shriniwas gauda
पुनः संशोधित शनिवार, 15 फ़रवरी 2020 (20:44 IST)
सोशल मीडिया में वीडियो वायरल होने के बाद चर्चा में आए श्रीनिवास गौड़ा का अब बेंगलुरु में किया जाएगा। यह ट्रायल यहां के भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) में विशेषज्ञों की निगरानी में होगा। इस बारे में खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने निर्देश जारी किए थे।
दरअसल, हाल ही में श्रीनिवास गौड़ा का एक वीडियो वायरल हुआ था, वे कम्बाला जौकी (भैंसों की परंपरागत दौड़) में दौड़ रहे थे। इसके बाद उनकी तुलना विश्‍वविख्‍यात धावक उसेन बोल्‍ट से की गई थी।

रीजीजू ने शनिवार को के शीर्ष कोचों को 28 साल के इस धावक का ट्रायल कराने का निर्देश दिया है। कर्नाटक में गौड़ा ने इस प्रतियोगिता में सिर्फ 13.62 सेकंड में 142.5 मीटर की दौड़ लगाई, जिसके बाद ये दावा किया गया कि उन्होंने सिर्फ 9.55 सेकंड में 100 मीटर की दूरी तय की जो कि उसेन बोल्ट का विश्व रिकार्ड भी है।

खेल मंत्री रीजीजू ने ट्विटर पर लिखा,
‘मैं कर्नाटक के श्रीनिवास गौड़ा को साइ के शीर्ष कोचों के सामने ट्रायल के लिए बुलाऊंगा। लोगों में ओलंपिक के स्तर को लेकर जानकारी की कमी है और खासतौर पर एथलेटिक्स में जहां मानवीय क्षमता के सर्वोच्च स्तर की परीक्षा होती है। मैं सुनिश्चित करूंगा कि देश में किसी भी प्रतिभा को परखे बिना बेकार नहीं होने दिया जाएगा’।

इसके बाद साइ ने भी ट्वीट किया और कहा कि सोमवार को गौड़ा का ट्रायल किया जाएगा। साइ ने ट्विटर पर यह भी लिखा कि हमने श्रीनिवास गौड़ा से संपर्क कर लिया है। उनके आने की ट्रेन टिकट भी बुक करवा ली है। वे सोमवार को साइ के बेंगलुरु स्थित केन्द्र पहुंचेंगे। जहां हमारे कोच उनका परीक्षण करेंगे।

महिंद्रा ने मांगा ‘गोल्‍ड मैडल’
इधर महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ट्वीट करते हुए कहा था कि- 'सिर्फ एक बार उसकी फिजिक को देखें और आप जान जाएंगे कि यह आदमी एक्ट्राऑर्डिनरी एथेलेटिक क्षमताओं से भरा हुआ है। अब या तो किरन रीजीजू इसे 100 मीटर स्प्रिंटर के लिए ट्रेनिंग उपलब्ध कराएं या फिर कंबाला को एक ओलंपिक इवेंट माना जाए। दूसरे शब्दों में हम श्रीनिवास के लिए ओलंपिक गोल्ड मैडल चाहते हैं।

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी ट्वीट कर खेल मंत्रालय और भारतीय एथलेटिक्स महासंघ से गौड़ा की मदद करने की मांग की।


और भी पढ़ें :