दक्षिण अफ्रीका के पूर्व हॉकी खिलाड़ी ग्रेग क्लार्क बने भारतीय पुरुष हॉकी टीम के विश्लेषक कोच

पुनः संशोधित मंगलवार, 5 जनवरी 2021 (23:11 IST)
नई दिल्ली:
दक्षिण अफ्रीका के पूर्व हॉकी खिलाड़ी को का विश्लेषक कोच बनाया गया है।
क्लार्क इस साल होने वाले तक टीम के विश्लेषक कोच रहेंगे। ओलंपिक का आयोजन 23 जुलाई से आठ अगस्त तक होगा। क्लार्क इससे पहले 2017 से 2020 तक कनाडा पुरुष हॉकी टीम के सहायक कोच रहे थे। वह जनवरी में कोचिंग शिविर में टीम के साथ जुड़ सकते हैं।

अपने 11 साल के लंबे करियर में क्लार्क ने दक्षिण अफ्रीकी टीम के लिए 250 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेले हैं। वह 1994 सिडनी और 2002 कुआलालम्पुर विश्वकप, 1998 कुआलालम्पुर तथा 2002 मैनचेस्टर राष्ट्रमंडल खेल और 1996 एटलांटा तथा 2004 एथेंस ओलंपिक में शामिल रहे हैं।
क्लार्क के पास कोच के रुप में 13 साल का अनुभव है। वह 2007 में दक्षिण अफ्रीका टीम के मुख्य कोच बने थे और 2013 तक टीम के साथ थे। क्लार्क बीजिंग ओलंपिक और लंदन ओलंपिक में भी कोच के रुप में शामिल रहे थे।

टीम के मुख्य कोच ग्राहम रीड ने कहा, “मैं क्लार्क का कोचिंग स्टाफ के रुप में स्वागत करने के लिए उत्साहित हूं। उनके पास काफी अनुभव है और उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के लिए 250 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। इसके अलावा वह ओलंपिक में दो बार खिलाड़ी और दो बार कोच के रुप में शामिल रहे हैं। तीन राष्ट्रमंडल खेलों में दो बार खिलाड़ी और एक बार कोच के रुप में शामिल रहे। उनके पास दक्षिण अफ्रीका के मुख्य कोच के रुप में छह साल का अनुभव है। इसके अलावा वह कनाडा के सहायक कोच भी रहे हैं।”
क्लार्क ने कहा, “मैं भारतीय पुरुष हॉकी टीम के साथ जुड़कर काफी उत्साहित हूं। मैं इससे पहले भी हॉकी इंडिया के साथ काम कर चुका हूं। 2013 में जूनियर टीम का कोच रहते मैंने जिन खिलाड़ियों को ट्रेनिंग दी थी उनमें से ज्यादातर खिलाड़ी आज सीनियर टीम में हैं। यह खिलाड़ी 2021 में बेहतर प्रदर्शन करेंगे।”(वार्ता)



और भी पढ़ें :