इंग्लैंड की जीत, ऑस्ट्रेलिया पस्त

WD| पुनः संशोधित मंगलवार, 20 नवंबर 2007 (15:11 IST)
वर्ष 2004 के कैलेंडर में इंग्लैंड टेस्ट क्रिकेट में एक भी टेस्ट नहीं हारा था और इसीलिए वह आईसीसी टेस्ट क्रिकेट रैंकिंग में दूसरे स्थान पर था।

वर्ष 2005 में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को ऐतिहासिक एशेज सिरीज में 2-1 हराकर यह खिताब 18 साल के लंबे समय के बाद अपने नाम किया था।

इसी सिरीज के चौथे टेस्ट में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के 191 टेस्ट के इतिहास में पहली बार इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को फॉलोआन दिया।

इस जीत के बाद जहाँ इंग्लैंड में जश्‍न का माहौल था, वहीं ऑस्ट्रेलिया में अपनी टीम की हार पर क्रिकेट प्रशंसकों ने जमकर रिकी पोंटिंग और उनकी टीम की आलोचना की।
ऑस्ट्रेलिया में गुस्से का यह आलम था कि रिकी पोंटिंग और अन्य खिलाड़ियों के पुतलों की शवयात्रा निकालकर उनका क्रियाक्रम किया गया था।



और भी पढ़ें :