आर्य, आर्यावर्त, हिन्दू और सनातन का रहस्य जानिए...

अनिरुद्ध जोशी|
अर्यों को कुछ विद्वान विदेशी मानते हैं और कुछ देशी। जो विदेशी मानते हैं उनमें अंग्रेज और वामपंथी इतिहाकारों के अलावा इनका अनुसरण करने वाले भी शामिल हैं और जो लोग देशी मानते हैं उनमें भी मतभेद हैं। 
किसी भी दूसरे मत या धर्म को स्थापित करने के लिए पहले धर्म को गलत साबित करना जरूरी होता है। उसकी प्रथा, रीति-रिवाज, दर्शन, नीति-नियम आदि को तर्क द्वारा यह सिद्ध करना की यह अब प्रासंगिक नहीं रहा, यह कि यह पुराना नियम हो चुका है या यह कि यह असल में धर्म नहीं है। धर्म तो वह है तो हम बता रहे हैं। खैर...
 
आओ हम जानते हैं कि आर्य कौन थे, आर्य और शब्द का अर्थ क्या है और क्या आर्य विदेशी थे या कि भारतीय। इसके अलावा हिन्दू शब्द की उत्पत्ति और उसका अर्थ क्या है। क्या है सनातन धर्म।
 
अगले पन्ने पर जानिए आर्य शब्द का अर्थ...
 



और भी पढ़ें :