70 साल से ज्‍यादा पुराना है क्रिकेट का गौरवशाली इतिहास, कानपुर में तैयार हुई 'विजिटर गैलरी'

अवनीश कुमार| Last Updated: रविवार, 21 नवंबर 2021 (13:05 IST)
कानपुर। कानपुर के में 25 नवंबर से होने वाले भारत बनाम न्यूजीलैंड क्रिकेट टेस्ट मैच की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं और जिसका जायजा लगातार आयुक्त, कानपुर मंडल डॉ. राजशेखर ले रहे हैं डॉ. राजशेखर कानपुर में होने वाले क्रिकेट मैच को यादगार बनाना चाहते हैं और हर एक उस यादगार पहलू व क्रिकेट के गौरवशाली इतिहास को जो क्रिकेट मैच से जुड़ा है उसे आम जनमानस तक पहुंचाने के लिए अभी काम कर रहे हैं और क्रिकेट से जुड़ी जानकारी आज की पीढ़ी आने वाली पीढ़ी को हो सके इस पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।
23 नवंबर तक हो जाएगा पूरा : आयुक्त, कानपुर मंडल डॉक्टर राजशेखर ने बताया कि कानपुर का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के क्षेत्र में प्रसिद्ध है।क्रिकेट के मैदान में इसका गौरवशाली इतिहास 70 साल से अधिक पुराना है।यूपी और भारत में क्रिकेट के गौरवशाली इतिहास को दिखाने और खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए कानपुर स्मार्ट सिटी ने ग्रीन पार्क कानपुर में 'विजिटर गैलरी' की परियोजना शुरू की है।

विज़िटर गैलरी के पहले चरण में डिस्प्ले सेक्शन और ऑडियो विजुअल सेक्शन को अंतिम रूप दिया जा रहा है और यह 23 नवंबर तक तैयार हो जाएगा।इसे विश्व के सर्वश्रेष्ठ विज़िटर गैलरी में से एक बनाने के लिए, यूपीसीए और बीसीसीआई के समर्थन से केएससीएल (कानपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड) और यूपी के खेल विभाग द्वारा यादगार क्रिकेट उपकरण और संबंधित आइटम जैसे फोटो, नए पेपर कटिंग, ट्रॉफी और शील्ड आदि एकत्र कर रहे हैं।

यादगार वस्तुओं का किया जा चुका है संग्रह :अब तक सभी के सहयोग से सैकड़ों यादगार वस्तुओं का संग्रह किया जा चुका है। इसमें सहयोग के लिए अधिक से अधिक क्रिकेट प्रेमी, मीडिया हाउस और अन्य खेलप्रेमी आगे आ रहे हैं और हमें ग्रीन पार्क स्टेडियम के से संबंधित बहुत ही मूल्यवान वस्तुएं दे रहे हैं। उन सभी को प्रशासन धन्यवाद देता है।

ऐसी ही एक बहुत ही मूल्यवान और यादगार वस्तु है, सबसे खास यादगार पल। कोका कोला सॉफ्ट-ड्रिंक सर्विस बॉक्स, जो वर्ष 1955 में लंदन में बना है और भारत बनाम वेस्टइंडीज के मैच 1978 में इस्तेमाल किया गया था।यह मूल्यवान वस्तु प्राचीन वस्तुओं का कलेक्टन बब्बू लांबा के पास था।

ग्रीन पार्क में बन रही आगंतुक दीर्घा में प्रदर्शित होने वाले इस स्मृति बॉक्स को प्रशासन को दान करने पर उन्हें बहुत प्रसन्नता हुई। उन्होंने आने वाले दिनों में अपने प्राचीन संग्रह से ग्रीन पार्क क्रिकेट स्टेडियम से संबंधित कई और यादगार वस्तुओं को देने की इच्छा भी दिखाई है।

प्रशासन और विज़िटर गैलरी टीम कानपुर में आगामी आगंतुक दीर्घा में संग्रह को समृद्ध बनाने के लिए इस उदार योगदान के लिए बब्बू लांबा और उनकी पत्नी को तहेदिल से धन्यवाद देती है।हम सभी क्रिकेटप्रेमियों और प्राचीन संग्रहकर्ताओं से भी अनुरोध करेंगे कि वे आगे आएं और आगामी आगंतुक गैलरी (विज़िटर गैलरी) के लिए जिस तरह से वे कर सकते हैं, योगदान दें।



और भी पढ़ें :