Lunar Eclipse 2021 : 19 नवंबर 2021 को लगने वाला है वर्ष का अंतिम चंद्रग्रहण, इन 7 राशियों पर रहेगा प्रभाव

2021 : पंचांग के अनुसार 19 नवंबर 2021, शुक्रवार को कार्तिक मास की पूर्णिमा की तिथि को लगने जा रहा है। इस दिन देव दिवाली भी रहेगी। वर्ष के इस अंतिम चंद्र ग्रहण को खंडग्रास और उपच्छाया चंद्रग्रहण कहा जा रहा है। आओ जानते हैं कि इसका किन राशियों ( ) पर होगा प्रभाव।



चंद्र ग्रहण का प्रभाव ( Lunar Eclipse effect )

1. कहां दिखाई देगा : कहा जा रहा है कि यह ग्रहण कनाडा, रशिया और उत्तर-दक्षिण अमेरिका में दिखाई देगा। इसकी आंशिक दृश्यता भारत, अमेरिका, उत्तरी यूरोप, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत महासागर क्षेत्र में होगी। चूंकि भारत में यह चंद्र ग्रहण उपच्छाया ग्रहण के रूप में दिखाई देगा, इसलिए यहां इसका सूतक मान्य नहीं होगा।
2. : जब भी कोई ग्रहण पड़ता है या आने वाला रहता है तो उस ग्रहण के 40 दिन पूर्व तथा 40 दिन बाद अर्थात उक्त ग्रहण के 80 दिन के अंतराल में भूकंप कभी भी आ सकता है। कभी कभी यह दिन कम होते हैं अर्थात ग्रहण के 15 दिन पूर्व या 15 दिन पश्चात भूकंप आ जाता है। ग्रहण के कारण वायुवेग बदल जाता है, धरती पर तूफान, आंधी का प्राभाव बढ़ जाता है। ऐसे में धरती की भीतरी प्लेटों पर भी दबाव बढ़ता है और और आपस में टकराती है।
3. वृषभ, और : इस बार का चंद्र ग्रहण राशि में लगने जा रहा है। अत: वृषभ राशि, वृश्चिक राशि और मेष राशि के लिए यह ग्रहण अच्‍छा नहीं माना जा रहा है।
4. तुला, और : तुला राशि, कुंभ राशि और मीन राशि के लोगों को इस चंद्रग्रहण के अच्छे परिणाम देखने को मिल सकते हैं।
5. सिंह राशि : चंद्र ग्रहण सूर्य के कृत्तिका नक्षत्र में लग रहा है। अत: कृत्तिका नक्षत्र में जिन लोगों का जन्म हुआ है, उन्हें सावधानी बरतने की जरूरत है। कृतिका नक्षत्र का स्वामी सूर्य है और सूर्य कि राशि सिंह होने के कारण सिंह राशि वाले भी इसे प्रभावित होंगे।



और भी पढ़ें :