राहुल की तरह होनहार क्रिकेटर है उनका बेटा, 250 गेंदों पर ठोंका दोहरा शतक

वेबदुनिया न्यूज डेस्क|
रविवार 22 अगस्त को बिरादरी का पूरा ध्यान कटक के बाराबत्ती स्टेडियम में लगा हुआ था, जहां रनों की जमकर बारिश हो रही थी। वेस्टइंडीज ने इस निर्णायक वनडे में 315 रन ठोंके तो भारत ने 316 रन बनाकर मैच के साथ सीरीज जीती। रविवार को ही एक और बड़ा कारनामा हुआ लेकिन वह टीम इंडिया की जीत विशाल छाया में गुमनाम-सा छुप गया।
दोहरे शतक में लगाए 22 चौके : इस बड़े कारनामे को अंजाम देने वाले खिलाड़ी थे समित, जो भारतीय क्रिकेट में 'द वॉल' के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ के बड़े
बेटे हैं। समित ने रविवार को बेंगलुरु में कर्नाटक राज्य अंडर 14 अंतर क्षेत्र क्रिकेट मैच में 250 गेंद में 22 चौकों की मदद से 201 रन ठोंके।

दूसरी पारी में नाबाद 94 और 3 विकेट : समित उपाध्यक्ष एकादश टीम के कप्तान हैं और उन्होंने यह धारवाड़ जोन के खिलाफ पहली पारी में जड़ा जबकि दूसरी पारी में वे 94 रनों पर नाबाद रहे। बल्लेबाजी में तो समित अपने जौहर दिखा ही रहे हैं, साथ ही गेंदबाजी में भी उन्होंने 26 रन पर 3 विकेट लेकर सबको हतप्रभ कर डाला। वैसे यह मैच ड्रॉ पर समाप्त हुआ।
द्रविड़ का क्रिकेट भी बेंगलुरु में परवान चढ़ा : समित के पिता और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का जन्म इंदौर में हुआ लेकिन बाद उनके पिता का तबादला बेंगलुरु हो गया था, जहां उनका क्रिकेट का शौक परवान चढ़ा। समित को भी बचपन से ही बेंगलुरु में क्रिकेट आदर्श वातावरण मिला, जिसके परिणाम 3 साल पहले ही आना शुरू हो गए।

स्कूल क्रिकेट में लगा चुके हैं : 2015 में भी समित तीन शतक लगातार स्थानीय अखबारों में सुर्खियां बटोरने में सफल रहे। समित ने अंडर-12 टूर्नामेंट में अपने स्कूल माल्या अदिति इंटरनेशनल के लिए यह सैकड़ें लगाकर तीनों में जीत दिलाई थी।
टेस्ट क्रिकेट में राहुल द्रविड़ के नाम 13288 रन :
राहुल द्रविड़ इस वक्त भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की बेंगलुरु स्थित नेशनल क्रिकेट एकेडमी के मुखिया और भारत की अंडर-19 टीम के कोच भी। उन्हीं की देखरेख में अंडर 19 कई युवा प्रतिभाएं टीम इंडिया को मिल रहीं हैं। खुद द्रविड़ ने भी 164 टेस्ट की 286 पारियों में 13288 रन बनाए हैं और उनका शुमार भारतीय क्रिकेट में 'द वॉल' के रूप में होता है।


और भी पढ़ें :