भारतीयों पर मोर्गन और बटलर के नस्लवादी ट्वीट की जांच पर वॉन ने कहा, 'यह हास्यास्पद है'

Last Updated: गुरुवार, 10 जून 2021 (19:04 IST)
लंदन:इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट (ईसीबी) सोशल मीडिया पर अपने कई खिलाड़ियों की कथित टिप्पणियों की जांच कर रहा है, इस पर पूर्व कप्तान ने कहा कि देश के क्रिकेटरों की पुरानी ट्वीट की जांच को रोका जाना चाहिए।
इंग्लैंड के सफेद गेंद के कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज की भारतीयों का मजाक उड़ाती कुछ ट्वीट बुधवार को सोशल मीडिया पर छा गयीं जिसके बाद ईसीबी इनकी जांच कर रहा है।

वॉन ने ट्वीट किया, ‘‘मोर्गन, बटलर और एंडरसन ने जिस समय ट्वीट किया, उस समय कोई भी इनसे आहत नहीं हुआ था, लेकिन हैरानी की बात है कि कुछ वर्षों बाद अब ये ट्वीट आपत्तिजनक कैसे हो गये। बहुत ही हास्यास्पद। इस जांच को रोका जाना चाहिए। ’’
ईसीबी ने तेज गेंदबाज ओली रोबिनसन को 2012-13 में की गयी उनकी कुछ आपत्तिजनक ट्वीट के बाद निलंबित कर दिया जिसके बाद बटलर और मोर्गन की भारतीयों को ‘सर’ शब्द का इस्तेमाल कर मजाक करती हुई ट्वीट सोशल मीडिया पर आने लगी।
रॉबिनसन ने 2012 और 2013 में नस्लवाद और लिंगभेद से जुड़े ट्वीट किये थे, जो उनके हाल में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने पर सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बन गये थे।
इसके बाद इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें जांच लंबित रहने तक निलंबित कर दिया था।इस 27 वर्षीय खिलाड़ी का उनके साथियों ने समर्थन किया और कहा कि उन्होंने इस मामले में उन्हें माफ कर दिया है।
वेस्टइंडीज के दि​ग्गज माइकल होल्डिंग ने भी इस मामले में सहानुभूति वाला रवैया अपनाया लेकिन रॉबिनसन को निलंबित करने के ईसीबी के फैसले को भी सही ठहराया।
लेकिन रॉबिन्सन से नजर हटी तो अब मॉर्गन और बटलर के ट्वीट का मुद्दा गरमा गया। टेलीग्राफ.सीओ.यूक की रिपोर्ट के अनुसार, 'बटलर के संदेश (मैसेज) का स्क्रीनशॉट भी साझा किया गया है​ जिसमें उन्होंने कहा है, 'मैं सर नंबर एक को हमेशा यही जवाब देता हूं, मेरे जैसा, आप जैसा, मेरे जैसा।' मोर्गन ने बटलर को टैग करके एक संदेश में लिखा, 'सर आप मेरे पसंदीदा बल्लेबाज हो।' बटलर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में राजस्थान रॉयल्स के लिये खेलते हैं जबकि मोर्गन कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है, 'इन ट्वीट के सटीक संदर्भ पर हालांकि सवालिया निशान लगा है लेकिन ये ऐसे समय में लिखे गये जबकि बटलर और मोर्गन इंग्लैंड के स्थापित खिलाड़ी बन चुके थे और ऐसे में उन्होंने सोशल मीडिया में ऐसी आपत्तिजनक बातें की।' ईसीबी ने कहा कि इस मामले से उचित तरीके से नि​बटा जाएगा।'(भाषा)



और भी पढ़ें :