मयंक अग्रवाल को चोटिल शिखर धवन की जगह वनडे टीम में मिली

पुनः संशोधित गुरुवार, 12 दिसंबर 2019 (00:50 IST)
नई दिल्ली। बीसीसीआई की चयन समिति ने जबरदस्त फार्म में चल रहे बल्लेबाज को की जगह वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय सीरीज के लिए भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल किया है।
भारतीय वनडे टीम इस प्रकार है- विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उपकप्तान), मयंक अग्रवाल, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रिषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, केदार जाधव, रवींद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक चाहर, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार।

शिखर धवन को घरेलू टी-20 टूर्नामेंट सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान दिल्ली की ओर से महाराष्ट्र के खिलाफ खेलते हुए बाएं घुटने में गहरा कट लग गया था। धवन इसी कारण से वेस्टइंडीज के खिलाफ मौजूदा ट्वंटी 20 सीरीज से भी बाहर हैं, जिसमें संजू सैमसन को उनकी जगह शामिल किया गया था।




बीसीसीआई की मेडिकल टीम के अनुसार धवन के घुटने में लगे टांके हटा दिए गए हैं लेकिन उनकी जख्म भरने में अभी समय लगेगा और उन्हें मैच के लिए पूरी तरह से तैयार होने के लिए पूरी तरह फिट होने की जरूरत है जिसमें अभी और समय लग सकता है। हालांकि बोर्ड ने जारी जानकारी में नहीं बताया कि धवन कब तक वापसी करेंगे।

भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज खेली जानी है जिसका पहला मैच चेन्नई में 15 दिसंबर, दूसरा मैच 18 दिसंबर को विशाखापत्तनम और तीसरा मैच कटक में 22 दिसंबर को खेला जाएगा।
मयंक फिलहाल डिंडीगुल में रणजी ट्रॉफी के पहले राउंड में कर्नाटक के लिए तमिलनाडु के खिलाफ खेल रहे हैं। उनके राष्ट्रीय टीम में शामिल किए जाने से अब वह 17 दिसंबर से शुरू हो रहे रणजी मैचों के दूसरे राउंड में हिस्सा नहीं ले सकेंगे।

यह इस वर्ष लगातार दूसरा मौका है जब मयंक को वनडे टीम में किसी खिलाड़ी की जगह शामिल किया गया है। इससे पहले उन्हें ऑलराउंडर विजय शंकर की जगह विश्वकप में जगह मिली थी जिन्हें अंगूठे में चोट लगी थी।

इस वर्ष मयंक कमाल की फार्म में खेल रहे हैं और घरेलू तथा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों में उन्होंने बढ़िया बल्लेबाजी की है। उन्होंने भारतीय टीम के घरेलू टेस्ट सत्र में दो दोहरे शतक और एक शतक जड़ा है और शीर्ष स्कोरर बने हुए हैं। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 और बांग्लादेश के खिलाफ 2 टेस्ट मैचों में हिस्सा लिया था।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी मयंक की फार्म की तारीफ की है। अपने घरेलू सत्र में भी मयंक ने अच्छा प्रदर्शन किया है। दक्षिण अफ्रीका सीरीज के बाद वह विजय हजारे ट्रॉफी में कर्नाटक के लिए खेलने उतरे थे और टीम के सेमीफाइनल और फाइनल मैच में खेले।
मयंक ने छत्तीसगढ़ के खिलाफ सेमीफाइनल में नाबाद 69 रन बनाए थे और कर्नाटक की खिताबी जीत में अहम भूमिका निभाई। इसके बाद मयंक ने भारत सी के लिए भारत ए के खिलाफ एकदिवसीय देवधर ट्रॉफी में खेलते हुए 120 रन की पारी खेली।


और भी पढ़ें :