धोनी के बराबर हुई रोहित शर्मा की सैलेरी, जानिए 'माही' को मिलते हैं कितने करोड़ रुपए?

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| पुनः संशोधित गुरुवार, 19 दिसंबर 2019 (00:45 IST)
चेन्नई। Team India के पूर्व कप्तान और आईसीसी में भारत को तीन मेजर खिताब (टी20 विश्व कप, आईसीसी विश्व कप, चैम्पियंस ट्रॉफी) दिलाने वाले महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) आईपीएल में के 4 खिताब के बाद अपनी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) को सबसे ज्यादा 3 बार चैम्पियन बना चुके हैं। फ्रेंचाइजी माही को 15 करोड़ रुपए की सैलेरी देती है और अब मुंबई ने भी कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का वेतन 15 करोड़ कर दिया है।
मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने खिलाड़ियों की सैलेरी का खुलासा बुधवार को उस समय किया, जब गुरुवार को कोलकाता में आईपीएल 13 के संस्करण के लिए खिलाड़ियों की बोली लगने जा रही है। बोली से पहले ही चेन्नई ने धोनी को 15 करोड़ में, केदार जाधव को 7 करोड़ 80 लाख में और रवींद्र जड़ेजा को 7 करोड़ रुपए में रिटेन किया है।
कोलकाता में होने वाले में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम सिर्फ 5 खिलाड़ियों की ही खरीद कर पाएगी क्योंकि इस नीलामी के पहले उसने सबसे ज्यादा 20 खिलाड़ियों को रिटेन किया था। बहरहाल, चेन्नई के पास जब तक धोनी जैसा कप्तान है, उसे चिंता करने की ज्यादा जरूरत नहीं है।
चेन्नई ने धोनी को 15 करोड़ रुपए, सुरेश रैना को 11 करोड़, केदार जाधव को 7.8 करोड़, रवींद्र जडेजा को 7 करोड़, ड्वेन ब्रावो को 6.4 करोड़, करण शर्मा 5 करोड़, शेन वॉटसन को 4 करोड़ रुपए में रिटेन किया है। चेन्नई के पास इनके अलावा शार्दुल ठाकुर, अंबाती रायडू, हरभजन सिंह, मुरली विजय, फाफ डू प्लेसिस, दीपक चाहर आदि खिलाड़ी टीम में बरकरार है।
सनद रहे कि आईपीएल नीलामी में खरीद के लिए 8 फ्रेंचाइजी के पास कुल 207.65 करोड़ रुपए ही बचे हैं, जिसमें से सबसे ज्यादा आरसीबी क पास 42.70 करोड़ रुपए होंगे। आईपीएल की नीलामी से पहले 8 टीमों ने कुल 35 विदेशी खिलाड़ियों सहित 127 खिलाड़ियों को रिटेन किया था। 8 टीमें खिलाड़ियों को रिटेन करने में 472.35 करोड़ रुपए खर्च कर चुकी हैं।
नीलामी से पहले सबसे अच्छी स्थिति में प्रीति जिंटा और नेस वाडिया के स्वामित्व वाली किंग्स इलेवन पंजाब है, जिसकी जेब में सबसे ज्यादा 42.70 करोड़ रुपए हैं। कोलकाता नाइटराइडर्स के पास 35.65 करोड़ रुपए, राजस्थान रॉयल्स के पास 28.90 करोड़, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरके पास 27.90 करोड़, दिल्ली कैपिटल्स के पास 27.85 करोड़, सनराइजर्स हैदराबाद के पास 17 करोड़, चेन्नई के पास 14.60 करोड़, मुंबई इंडियंस के पास 13.05 करोड़ रुपए हैं।


और भी पढ़ें :