वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट में भारत की पकड़ मजबूत

पुनः संशोधित रविवार, 25 अगस्त 2019 (08:27 IST)
(एंटीगा)। भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन शनिवार को यहां 52 ओवर में 3 विकेट पर 134 रन बनाकर मैच पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली।
भारतीय टीम ने दूसरे सत्र में 3 विकेट गंवा दिये लेकिन कप्तान विराट कोहली (नाबाद 26) और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (नाबाद 29) ने मोर्चा संभाला और टीम को कोई क्षति नहीं होने दी। दोनों ने अब तब चौथे विकेट के लिए 53 रन की अटूट साझेदारी कर ली है। खबर लिखे जाते समय तक भारत की कुल बढ़त 209 रन की हो गई है और उसके 7 विकेट बाकी हैं।

वेस्टइंडीज के लिए ऑफ स्पिनर रोस्टन चेज सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 42 रन देकर 2 विकेट चटकाए। वेस्टइंडीज को दिन के दूसरे सत्र में पहली सफलता के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ा। पारी के 14वें ओवर में मयंक अग्रवाल 16 रन बनाकर रोस्टन चेज की गेंद पर पगबाधा आउट हुए। इस समय टीम का स्कोर 30 रन था।
मयंक हालांकि रिव्यू का सहारा लेते तो आउट होने से बच सकते थे। रीप्ले में दिखा कि गेंद ने आफ स्टंप से बाहर टप्पा लिया था और लेग स्टंप के बाहर निकल रही थी लेकिन उन्होंने दूसरे छोर पर खड़े राहुल से सलाह करने के बाद पैवेलियन की तरफ लौटना सही समझा।

मयंक के आउट होने के बाद राहुल और चेतेश्वर पुजारा संभल कर बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन 9 गेंद के अंदर दोनों आउट हो गए। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 43 रन की साझेदारी की। राहुल गलत शॉट चयन के कारण चेज का दूसरा शिकार बने। वे ऑफ स्टंप से बाहर निकलकर स्वीप लगाने के चक्कर में बोल्ड हो गए। उन्होंने 85 गेंद की पारी में चार चौके की मदद से 38 रन बनाए।
पुजारा भी अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा सके और केमार रोच की गेंद पर बोल्ड हो गए। उन्होंने 53 गेंद में 25 रन बनाए।
इसके बाद कोहली और रहाणे ने टीम को कोई और क्षति नहीं होने दी।

भारत ने इससे पहले इशांत शर्मा (43 रन पर 5 विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर वेस्टइंडीज की पहली पारी को 74.2 ओवर में 222 रन पर समेट दिया। भारतीय टीम ने पहली पारी में 297 रन बनाए थे जिससे पहली पारी के आधार पर टीम को 75 रन की बढ़त मिली।
इशांत शर्मा के अलावा भारत के लिए तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (48 रन पर दो विकेट) और रविन्द्र जड़ेजा (64 रन पर 2 विकेट) ने दो-दो विकेट चटकाए। जसप्रीत बुमराह को एक सफलता मिली।

वेस्टइंडीज के लिए रोस्टन चेज (48), कप्तान जेसन होल्डर (39), जान कैम्पबेल (23), डेरेन ब्रावो (18), शाई होप (24) और शिमरोन हेटमायर (35) अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा सके।

वेस्टइंडीज ने दिन की शुरुआत 8 विकेट पर 189 रन से की। कल के नाबाद बल्लेबाज होल्डर और मिगुएल कमिंस ने नौवें विकेट के लिए 103 गेंद में 41 रन की अहम साझेदारी कर भारत को बड़ी बढ़त हासिल करने से रोका।
होल्डर एक छोर से रन बना रहे थे जबकि कमिंस दूसरे छोर पर बेहद ही सतर्कता से बल्लेबाजी कर रहे थे। होल्डर ने 65 गेंद की पारी में पांच चौके की मदद से 39 रन बनाए। कमिंस खाता खोलने में नाकाम रहे लेकिन उन्होंने 45 गेंद का सामना कर होल्डर का साथ बखूबी निभाया।

इस साझेदारी को शमी ने पारी के 74वें ओवर में होल्डर को विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों कैच कराकर तोड़ा। इसके बाद जडेजा ने कमिंस को बोल्ड कर वेस्टइंडीज की पारी का अंत किया।

 

और भी पढ़ें :