DDCA अब बदल रहा है फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम

वेबदुनिया न्यूज डेस्क| Last Updated: मंगलवार, 27 अगस्त 2019 (18:01 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली एवं जिला क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) ने एक बड़ा फैसला लेते हुए फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नया नामकरण करने का फैसला लिया है। भविष्य में जब यहां कोई मैच होंगे, तब इसका नाम होगा अरुण जेटली स्टेडियम। असल में अरुण जेटली की याद को हमेशा जिंदा रखने के लिए यह निर्णय किया है क्योंकि वे एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष भी रहे हैं।

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार को लंबी बीमारी के बाद 66 वर्ष की आयु में हो गया था। 12 सितम्बर को दिल्ली एवं जिला क्रिकेट एसोसिएशन एक समारोह का आयोजन करेगा।

यह समारोह जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में होगा, जिसमें गृह मंत्री अमित शाह और खेल मंत्री कीरन रीजीजू भी हिस्सा लेंगे। समारोह में आधिकारिक रूप से फिरोजशाह कोटला का नाम बदलकर होने की घोषणा की जाएगी। साथ ही स्टेडियम के एक स्टैंड का नाम विराट कोहली पर किए जाने का भी ऐलान होगा।
भाजपा के कद्दावर नेताओं में शुमार रहे जेटली ने दिल्ली क्रिकेट के लिए बहुत कुछ किया। फिलहाल दिल्ली एवं जिला क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष इंडिया टीवी के रजत शर्मा हैं। उन्होंने कहा कि जेटली के प्रोत्साहन और सहयोग के कारण ही भारतीय क्रिकेट टीम को वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, विराट कोहली, आशीष नेहरा और ऋषभ पंत जैसे दिग्गज खिलाड़ी मिले हैं।

रजत शर्मा ने कहा कि अरुण जेटली ने न केवल खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया है, बल्कि फिरोजशाह कोटला को भी आधुनिक सुविधाओं से लैस किया। स्टेडियम की दर्शक क्षमता बढ़ाने के साथ ही विश्व स्तरीय ड्रेसिंग रूप बनाने का श्रेय भी जेटली को जाता है।


बहादुर शाह जफर मार्ग नई दिल्ली स्थित फिरोज शाह कोटला स्टेडियम की स्थापना 1883 में हुई थी। कुछ सालों पहले तक इसकी दर्शक क्षमता 30 हजार के भीतर होती थी लेकिन अब यहां पर 41 हजार 820 क्रिकेट दर्शक मैचों का लुत्फ ले सकते हैं।

 

और भी पढ़ें :