1. समाचार
  2. व्यापार
  3. समाचार
  4. Mukesh Ambani divided his business
Written By
Last Updated: सोमवार, 29 अगस्त 2022 (19:40 IST)

Reliance Group: मुकेश अंबानी ने पुत्री ईशा को खुदरा व छोटे पुत्र अनंत को नवीन ऊर्जा कारोबार की कमान सौंपी

मुंबई। रिलायंस समूह के प्रमुख मुकेश अंबानी ने सोमवार को अपनी पुत्री ईशा को खुदरा कारोबार और छोटे बेटे अनंत को ऊर्जा कारोबार की कमान सौंपने की घोषणा कर देश की सबसे मूल्यवान कंपनी की उत्तराधिकार योजना स्पष्ट कर दी। अंबानी अपने बड़े पुत्र आकाश को समूह की दूरसंचार इकाई रिलायंस जियो का प्रमुख पहले ही नामित कर चुके हैं।
 
रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) की 45वीं सालाना आमसभा (एजीएम) में अंबानी ने ईशा और अनंत को नई जिम्मेदारियां सौंपे जाने की घोषणा करते कहा कि ईशा रिलायंस रिटेल के अगुवा के तौर पर काम करेंगी जबकि अनंत नवीन ऊर्जा कारोबार को संभालेंगे।
 
हालांकि अंबानी ने उत्तराधिकारियों के नाम तय करने के साथ ही यह स्पष्ट किया कि वे अभी सेवानिवृत्त नहीं होने जा रहे हैं व पहले की ही तरह क्रियाशील नेतृत्व देना जारी रहेगा। इस घोषणा से यह सुनिश्चित हो सकेगा कि रिलायंस एक इकाई, सुसंबद्ध एवं सुरक्षित संस्थान के तौर पर बना रहे, भले ही मौजूदा कारोबार का विस्तार हो और नए कारोबार इसका हिस्सा बन जाएं।
 
रिलायंस समूह के मुख्यत: 3 व्यवसाय हैं, जो तेलशोधन एवं पेट्रोरसायन, खुदरा कारोबार और डिजिटल कारोबार (दूरसंचार शामिल) हैं। इनमें से खुदरा और डिजिटल कारोबार पूर्ण स्वामित्व वाली इकाइयों जियो प्लेटफॉर्म्स और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) के अधीन हैं। वहीं तेल से रसायन (ओ2सी) कारोबार रिलायंस के तहत आता है। नवीन ऊर्जा कारोबार भी मूल कंपनी का ही हिस्सा है। 65 वर्षीय मुकेश अंबानी की 3 संतानें हैं। ईशा और आकाश जुड़वां भाई-बहन हैं जबकि सबसे छोटे अनंत हैं। ईशा की शादी पीरामल समूह के आनंद पीरामल से हुई है।
 
अंबानी ने एजीएम में कहा कि आकाश और ईशा ने क्रमश: जियो और रिटेल का नेतृत्व संभाला हुआ है, वहीं अनंत भी पूरे मनोयोग से हमारे नवीन ऊर्जा कारोबार के साथ जुड़े हुए हैं। इनमें से सिर्फ आकाश को ही अभी तक किसी कंपनी का कार्यकारी प्रमुख बनाया गया है बाकी दोनों भाई-बहन समूह की कंपनियों के निदेशक मंडल का हिस्सा हैं।
 
अंबानी ने अपनी अगली पीढ़ी का परिचय देते हुए कहा कि इन तीनों को हमारे समूह संस्थापक (धीरुभाई अंबानी) की सोच विरासत में मिली है। वे पेशेवरों एवं अगुवा लोगों की एक युवा टीम के बीच समकक्षों में प्रथम हैं। इन सभी को मेरे और निदेशक मंडल के अन्य सदस्यों समेत तमाम वरिष्ठों का दैनिक आधार पर मार्गदर्शन मिल रहा है।
 
आकाश को जून में रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड का चेयरमैन बनाया गया था। यह फर्म जियो प्लेटफॉर्म्स की ही एक अनुषंगी है और उसके पास दूरसंचार लाइसेंस हैं। जियो प्लेटफॉर्म्स के चेयरमैन अभी मुकेश अंबानी ही हैं। इसके अलावा अंबानी रिलायंस रिटेल के भी प्रमुख हैं। अंबानी ने एजीएम में शेयरधारकों से ईशा का परिचय खुदरा कारोबार के अगुवा के तौर पर कराया। बाद में उन्होंने कहा कि 26 साल के अनंत ने नवीन ऊर्जा कारोबार की कमान संभाली है।(भाषा)
ये भी पढ़ें
गाजियाबाद की बुलट रानी ने पुलिसकर्मी को जड़ा थप्पड़, अब पुलिस के शिकंजे में