पाकिस्तानी लड़कियों को शादी के नाम पर बेचकर चीन में वेश्यावृत्ति के दलदल में धकेला

Last Updated: सोमवार, 17 जून 2019 (22:09 IST)
फैसलाबाद। पाकिस्तान की लड़कियों को शादी के नाम पर बेचने और फिर उन्हें में वेश्यावृत्ति के दलदल में धकेलने के मामले सामने आए हैं।
एक महिला नताशा मसीह (19) का कहना था कि उसका नया पति (एक चीनी व्यक्ति जिसे उसके परिवार ने शादी में बेच दिया था) उसे प्रताड़ित कर रहा था। आखिरकार वह टूट गई और उसने अपनी मां को पूरी कहानी सुनाई और उनसे उसे घर लाने की गुहार लगाई।

उसने बताया कि उसके पति ने उसे चीन के एक स्थान पर एक होटल में छिपा दिया था और वह पिछले कुछ हफ्तों से उसे दूसरे पुरुषों के साथ यौन संबंध बनाने के लिए मजबूर कर रहा था। उसने बताया कि उसके पति ने उसे बताया कि मैंने तुम्हें पाकिस्तान में खरीदा है, तुम मेरी हो, तुम मेरी संपत्ति हूं।
नताशा उन सैकड़ों पाकिस्तानी लड़कियों में से एक थीं जिन्होंने अपने परिवारों को नकद भुगतान के बदले में चीनी पुरुषों से शादी की थी। इन परिवारों में ज्यादातर ईसाई थे।
की में पाया गया है कि चीन में कई लड़कियों को वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया जाता है। पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी ने हाल के सप्ताह में कई गिरफ्तारी की और छापेमारी की जिससे तस्करी के इस नेटवर्क का पता चलता है। परिवारों को बताया जाता है कि उनकी बेटियों की अच्छे व्यवसायियों से शादी की जाएगी और चीन में उन्हें अच्छा जीवन दिया जाएगा।
दो अधिकारियों ने नाम गुप्त रखने की शर्त पर बताया कि वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने जांचकर्ताओं को तस्करी के बारे में चुप रहने का आदेश दिया है, क्योंकि वे चीन के साथ पाकिस्तान के घनिष्ठ आर्थिक संबंधों को खतरे में नहीं डालना चाहते हैं।



और भी पढ़ें :