दिमाग की सारी बत्तियां खुल गई:गणित के गुरुजी का जोक

पुराने गणित के गुरुजी मिल गए,
रिटायर हो गए थे।
हाल चाल पूछा,
मन प्रसन्न हो गया।
चलते समय मैंने उनका मोबाइल नम्बर पूछा

गुरुजी ने बताया
नौ अरब छियालीस करोड़ सोलह लाख अट्ठावन हजार एक सो तैंतीस (9461658133)
कसम से, दिमाग की

सारी बत्तियां खुल गई।




और भी पढ़ें :