टी-20 क्रिकेट के ऑलराउंडरों की लिस्ट में इंग्लैंड भारत से है कहीं बेहतर

Last Updated: शुक्रवार, 12 मार्च 2021 (18:04 IST)
अहमदाबाद:टी-20 क्रिकेट मतलब ऑलराउंडरों का खेल, किसी भी खिलाड़ी से अगर 2 ओवर 6 की औसत से निकलवाए जा सकते हैं और वह 15 गेंदो में 25 रन बना सकता है तो वह टीम के काम का है। यही कारण है कि हाल में हुए आईपीएल ऑक्शन में एक (क्रिस मोरिस) को ही सबसे ज्यादा धन (16.5 करोड़) मिला।

और के बीच होने वाले पहले में भी ऑलराउंडरो की एक बड़ी भूमिका होने वाली है। हालांकि टी-20 क्रिकेट में लगभग हर मायने पर 19-20 की स्थिती में खड़ी टीम इंडिया और इंग्लैंड में ऑलराउंडरों में काफी अंतर है।

इंग्लैंड के पास फिलहाल टी-20 क्रिकेट के 3 बेहतरीन ऑलराउंडर है जो आईपीएल का भी हिस्सा हैं। सबसे पहला नाम है , स्टोक्स बल्ले से मैच बदलने की काबिलियत रखते हैं, पॉवरप्ले के बाद उनसे तेज गेंदबाजी भी करवाई जा सकती है।

चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से खेलने वाले ने अपने खेल से काफी प्रभावित किया है। वह बाएं हाथ के तेज गेंदबाज है तो उनसे पॉवरप्ले और अंत के ओवरों में सटीक गेंदबाजी की उम्मीद की जा सकती है। वहीं टीम को अगर कम गेंदो में ज्यादा रनों की दरकार है तो वह यह कर सकते हैं।

तीसरा नाम है उनके भाई का जो शायद आज उनके साथ खेलते हुए दिख सकते हैं। टॉम करन भी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं और उनसे 1-2 ओवर गेंदबाजी में भी डलवाए जा सकते हैं अगर वह ज्यादा महंगे साबित नहीं होते हैं।

लेकिन भारत के पास फिलहाल एक ही ऑलराउंडर है जिसका नाम है हार्दिक पांड्या। वह भी शायद सिर्फ बल्लेबाजी करता ही नजर आए गेंदबाजी नहीं। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर उन्हें 2 ओवर करवाए थे, वह स्पैल उन्होंने जैसे तैसे पूरा किया।

वैसे तो वह बल्लेबाजी से क्या कर सकते हैं यह ऑस्ट्रेलिया दौरे पर देखा जा चुका है। लेकिन टीम इंडिया चाहेगी कि वह जल्द गेंदबाजी से भी योगदान दें क्योंकि इस सीरीज में ना ही बुमराह है ना ही शमी।

भी एक बढ़िया ऑलराउंडर है लेकिन टी-20 क्रिकेट में उनमें अभी लय कि कमी है। अपने दिन पर वह गेंद और बल्ले से टीम के लिए अहम योगदान दे देते हैं, तो किसी दिन वह बेहद साधारण प्रतीत होते हैं।

साफ तौर पर इंग्लैंड के पास ऑलराउंडर संख्या में और गुणवता में भारत से बेहतर हैं लेकिन वह इस सीरीज में इसका कितना फायदा उठा पाता है यह देखने वाली बात होगी।

इंग्लैंड ऑलराउंडरों की लिस्ट में कागज पर तो 20 नजर आ रही है लेकिन क्या मैदान पर भी ऐसा ही होगा। क्योंकि तीनों ही ऑलराउंडर तेज गेंदबाजी करने वाले ऑलराउंडर है और टेस्ट सीरीज में तेज गेंदबाजी के लिए अहदमदाबाद की पिच कब्रगाह साबित हुई है।

इंग्लैंड के पास एक और ऑलराउंडर थे जो फिलहाल घर बैठे हुए हैं और आईपीएल के लिए आराम फरमा रहे हैं। वह है मोइन अली। मोइन अली अगर इस टीम में शामिल होते तो इंग्लैंड का पलड़ा और ज्यादा भारी हो जाता।(वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :