Corona के कारण रेलवे ने गंवाए 2903 कर्मचारी, सरकार ने राज्‍यसभा में दिया जवाब

पुनः संशोधित शुक्रवार, 23 जुलाई 2021 (17:54 IST)
नई दिल्ली। ने शुक्रवार को कहा कि कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी की वजह से रेलवे के 2903 कर्मचारियों की जान जा चुकी है। रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि कोविड के कारण जान गंवाने वाले रेलकर्मियों के 2,782 मामलों में मृतक के परिजन को उन्हें दी जाने वाली बकाया राशि का भुगतान किया जा चुका है।
उन्होंने कहा भारतीय रेलवे की नीति के अनुसार, सेवा के दौरान जान गंवाने वाले कर्मियों के आश्रितों को अनुकंपा के आधार पर नौकरी दी जाती है। कोविड-19 महामारी की वजह से जान गंवाने रेलकर्मियों के परिवार के आश्रितों को अनुकंपा के आधार पर नौकरी की योजना के दायरे में रखा गया है।
ALSO READ:
राज कुंद्रा को लेकर शिल्पा शेट्टी के घर पहुंची क्राइम ब्रांच, एक्ट्रेस से भी हो सकती है पूछताछ
उन्होंने बताया कि कोविड-19 के कारण रेलकर्मियों की के 2,903 मामलों में से 1,732 मामलों में आश्रितों को अनुकंपा के आधार पर नौकरी दी गई है। वैष्णव ने यह भी बताया कि अब तक 8,63,868 रेलकर्मियों को कोरोना रोधी टीके की पहली खुराक और 2,34,184 कर्मियों को दूसरी खुराक दी जा चुकी है।
मंत्री ने बताया कि रेलवे में टीकाकरण अभियान के लिए पर्याप्त संख्या में टीकाकरण केंद्र स्थापित किए गए हैं और कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है। उन्होंने कहा, टीके की उपलब्धता और टीकाकरण की इच्छा को देखते हुए सभी रेलकर्मियों के टीकाकरण के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :